• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Rohtak
  • In The Fields Of Singhpura Village Of Bahu Akbarpur, A Fellow Worker Killed And Buried The Dead Body In The Field, The Fellow Worker Informed The Sarpanch And The Sarpanch Informed The Police.

रोहतक के गांव सिंहपुरा के मजदूर की हत्या:शव को खेत में दफनाकर आरोपी फरार, रस्सी से बंधे हुए थे हाथ और पैर; 15 दिन पहले ही यूपी से आया था

रोहतक2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
खेत में दबे शव को बाहर निकालते हुए व प्रशासन द्वारा पूरे मामले की करवाई जा रही वीडियोग्राफी। - Dainik Bhaskar
खेत में दबे शव को बाहर निकालते हुए व प्रशासन द्वारा पूरे मामले की करवाई जा रही वीडियोग्राफी।

हरियाणा के रोहतक जिले के गांव सिंहपुरा के खेतों में एक युवक का शव दबा हुआ मिला। पुलिस ने जब शव को बाहर निकलवाया, तो चौंकाने वाली बात सामने आई। मृतक के हाथ और पैर रस्सी से बंधे हुए थे। मृतक पेशे से मजदूर था, वह रोहतक में करीब 15 दिन पहले ही काम के लिए आया था। शव को बाहर निकलवा कर उसे पीजीआई ‌भिजवाया गया। जहां पंचनामा भरवा कर शवगृह में रखवा दिया गया है।

पुलिस ने मृतक के परिजनों को सूचना दे दी है। मृतक की पहचान यूपी के शाहजहांपुर निवासी संतोष (35) के रूप में हुई। परिजनों के मंगलवार को रोहतक पहुंचने के बाद उनके बयानों के आधार पर पुलिस आगे की कार्रवाई करेगी।

जानकारी के अनुसार पुलिस को मंगलवार को सूचना मिली कि गांव सिंहपुरा के खेतों में एक युवक की हत्या कर खेतों में शव दबाया हुआ है। सूचना मिलने पर शाम 4 बजे बहु अकबरपुर थाना पुलिस, डीएसपी महेश कुमार, डॉक्टरों की टीम व ड्यूटी मजिस्ट्रेट के तौर पर तहसीलदार और एफएसएल टीम मौके पर पहुंची। खेत की खुदाई का काम शुरू किया और शव बाहर निकाला गया।

मौके पर जांच करती एफएसएल टीम।
मौके पर जांच करती एफएसएल टीम।

यूं हुआ शव दबे होने का खुलासा
गांव के सरपंच ने पुलिस को बताया कि उनके गांव के खेत में काम करने वाले एक श्रमिक ने उन्हें जानकारी दी कि वे 3 लोग यूपी से रोहतक काम करने आए थे। तीनों प्रदीप नाम के व्यक्ति के खेत में काम करते थे। तीनों में से एक श्रमिक ने संतोष की हत्या कर दी गई। हत्या करने के बाद उसने दूसरे श्रमिक को बताया था कि वह उसकी हत्या कर उसका शव खेत में दबा आया है। यह बताने के बाद आरोपी श्रमिक मौके से फरार हो गया था।

हत्या कब और किसने की, अब कुछ नहीं कहा जा सकता
जानकारी देते हुए डीएसपी महेश कुमार ने बताया कि सूचना के आधार पर गांव सिंहपुरा के खेतों में से दबे हुए शव को बाहर निकलवाया। जिसके दोनों हाथ-पैर बंधे हुए थे। मृतक की पहचान हो गई है। वह यहीं मजदूरी का काम करता था। उसके परिजनों को सूचित कर दिया गया है। शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा जाएगा। हत्या कब व किसने की है, अभी कुछ नहीं कहा जा सकता। परिजनों के बयान के आधार पर कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और भी हैं...