काम की खबर:कार्य करने के लिए औद्योगिक इकाइयों को पोर्टल पर करना होगा पंजीकरण

रोहतक22 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

देश में कोरोना महामारी के नए वैरिएंट ओमिक्रोन के बढ़ते प्रसार से भविष्य में जिला में यदि लॉकडाउन की स्थिति बनती है तो केवल उन्हीं औद्योगिक इकाईयों को कार्य करने की अनुमति मिलेगी, जो एमएसएमई के पोर्टल पर पंजीकृत होगी। सूक्ष्म, लधु एवं मध्यम इंटरप्राइजेज हरियाणा के महानिदेशक ने कोरोना के नए वैरिंएट के मद्देनजर एमएसएमई केंद्रों के कार्यालय अध्यक्षों को ऐसे निर्देश जारी किए गए हैं।

डीसी कैप्टन मनोज कुमार ने बताया है कि औद्योगिक इकाइयों को हरियाणा उद्यम मेमोरेडम (एचयूएम) व उद्यम रजिस्ट्रेशन (यूआरसी) में पंजीकरण करवाना अनिवार्य है। जिन इकाईयों का रजिस्ट्रेशन होगा, केवल उन्हीं को उक्त हालात में कार्य करने की अनुमति दी जायेगी। जिले में रजिस्ट्रेशन के लिए पखवाड़ा भी आयोजित किया जा रहा है। पंजीकृत इकाईयां रजिस्ट्रेशन करवाने के बाद केंद्र व राज्य सरकार के द्वारा चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं व अनेक प्रकार की सब्सिडी का लाभ ले सकेंगी।

एमएसएमई केंद्र में हेल्प डेस्क स्थापित
जिला एमएसएमई केंद्र की उपनिदेशक नीलिमा ने कहा कि सूक्ष्म, लधु एवं मध्यम स्तर की औद्योगिक इकाई एवं प्रतिष्ठान तथा पोर्टल पर पंजीकरण करा सकते हैं। इसके अलावा उद्यमी व व्यापारी खुद https://harudhyam.edisha.gov.in पर रजिस्ट्रेशन कर सकते है। उन्होंने बताया कि हरियाणा उद्यम मेमोरेंडम व उद्यम रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए जिला एमएसएमई केंद्र में निशुल्क हेल्प डेस्क स्थापित की गई हैं।

हेल्प डेस्क के माध्यम से नए उद्यम रजिस्ट्रेशन करवाने के अलावा पुराने उद्योग आधार मेमोरेंडम को उद्यम पर पंजीकरण स्थानांतरण का कार्य भी किया जा रहा है। रजिस्ट्रेशन से संबंधित जानकारी के लिए 94160-25459, 81680-01165 पर संपर्क कर सकते है तथा औद्योगिक संस्थानों में डोर टू डोर जाकर एमएसएमई की विभिन्न योजनाओं के बारे में डीएमसी रोहतक द्वारा दी जा रही है।

खबरें और भी हैं...