• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Rohtak
  • Jojo Expresses Satisfaction With Police Investigation In Booth Capturing Case, Case Against Graver And Blacksmith Dismissed

बूथ कैप्चरिंग मामला:बूथ कैप्चरिंग मामले में पुलिस जांच से जोजो ने जताई संतुष्टि, ग्राेवर और लोहार के खिलाफ केस खारिज

रोहतक3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मनीष ग्रोवर और लोकेंद्र फाैगाट। - Dainik Bhaskar
मनीष ग्रोवर और लोकेंद्र फाैगाट।
  • पुलिस के कार्रवाई न करने पर कोर्ट के जरिए ही लोकेंद्र फौगाट ने दायर करवाया था केस

2019 के लोकसभा चुनाव में झज्जर चुंगी के पास बूथ कैप्चरिंग मामले में पूर्व मंत्री मनीष ग्रोवर और रमेश लोहार पर दर्ज केस को शुक्रवार को कोर्ट ने खारिज कर दिया। हालांकि कोर्ट के मार्फत से ही लोकेंद्र फौगाट जोजो ने केस दायर करवाया था। ग्रोवर व रमेश पर बूथ कैप्चरिंग के आरोप लगाए थे। पुलिस ने मामले में जांच के बाद एफआईआर खारिज करने की रिपोर्ट दाखिल की थी। लोकेंद्र पक्ष ने कोर्ट में अब पुलिस जांच रिपोर्ट से संतुष्ट होने की बात कही, जिस पर कोर्ट ने मामला रफा-दफा कर दिया।

यह था मामला:वोटिंग के दौरान विधायक से हुआ था विवाद

लोस चुनाव में वोटिंग के दिन 12 मई 2019 को काठमंडी में बने बूथ पर ग्रोवर और कांग्रेस विधायक बीबी बतरा में विवाद हो गया था। बार एसोसिएशन के प्रधान लोकेंद्र फाैगाट ने ग्रोवर व लोहार पर बूथ नंबर 143, 145 व 146 पर बूथ कैप्चरिंग और धमकी देने के आरोप लगाए थे। शिकायत एसपी को दी थी, लेकिन कार्रवाई नहीं की तो उन्होंने कोर्ट में याचिका लगा दी थी। वहीं दीपेंद्र हुड्‌डा ने भी तत्कालीन डीसी डाॅ. यश गर्ग को भी उनके कार्यालय में जाकर वीडियो दिखाते हुए शिकायत दी थी। कोर्ट के आदेश पर पुलिस को मनीष ग्रोवर और रमेश लोहार पर मामला दर्ज करना पड़ा था।

कोर्ट ने पुलिस को हिदायत दी थी कि एफआईआर कर जांच की जाए। पुलिस ने जांच में गवाहों के बयान के हवाले से दर्ज किया कि इसी वाकया के संदर्भ में एफआईआर दर्ज है। अलग से इस एफआईआर में अन्य साक्ष्य नहीं मिले हैं। इसलिए मौजूदा एफआईआर की कैंसिल रिपोर्ट पुलिस ने कोर्ट में दाखिल की। शिकायतकर्ता कार्रवाई से संतुष्ट हैं। इसलिए एफआईआर 517 की जांच से संतुष्ट हैं।- एडवोकेट नवीन सिंघल, लोकेंद्र के वकील।

खबरें और भी हैं...