पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

विवाद:नांदल भवन की जमीन काे लेकर खाप प्रधान ने लगाए आराेप, सर्वखाप पंचायत प्रधान बाेले- बदनाम कर रहे

रोहतक16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मैना पर्यटक केंद्र पर प्रेसवार्ता करते नांदल खाप के प्रधान ओमप्रकाश नांदल व अन्य।
  • नांदल खाप 20 अक्टूबर काे मनाएगी मिलन समारोह, पूर्व कार्यकारिणी से चंदे के पैसे का लिया जाएगा हिसाब

नांदल खाप के प्रधान ओमप्रकाश नांदल ने कहा कि मेरी ओर से चार्ज लिए जाने के बाद मैंने पूर्व प्रधान महेन्द्र नांदल तथा कोषाध्यक्ष बलराज को नांदल भवन निर्माण कार्य का रिकार्ड और बचा हुआ पैसा नांदल भवन में जमा करवाने के लिए पत्र लिखे और उनके घर जाकर व्यक्तिगत तौर पर भी आग्रह किया। परन्तु हमारी बात की ओर कोई ध्यान नहीं दिया गया।

28 अगस्त, 2017 को अठगामा भवन बोहर में बोहर, गढ़ी तथा माजरा गांवों की पंचायत हुई थी। जिसमें विस्तार से चर्चा के बाद फैसला लिया गया कि भवन निर्माण का सारा रिकार्ड, रसीदें व पैसा 15 दिन के अन्दर भवन में जमा करवा दिया जाए, लेकिन आज तक वो रिकार्ड नहीं दिया गया है। कुछ स्वार्थी तत्व उन पर इस्तीफा देने का दबाव बनाने में लगे हुए हैं लेकिन वो इस बात को भूल गए हैं कि खाप संविधान की धारा 7 (क) के अनुसार प्रधान का पद आजीवन या इस्तीफा देने तक उनके पास रहेगा।

ये नियम खाप के संविधान में संस्थापक प्रधान चौ. रणसिंह नांदल व उनकी कार्यकारिणी ने बनाया था। वे गुरुवार काे मैना पर्यटक केंद्र पर पत्रकार वार्ता को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधान महेन्द्र सिंह नांदल के समय बनाई गई ‘नांदल कल्याण सेवा समिति’ की धारा 5 (ग) व 14 (ख) के अनुसार तत्कालीन 21 सदस्यीय कार्यकारिणी नांदल भवन की जमीन को आपस में बांट या गिरवी रखकर लोन लेने का षड्यंत्र रच रही थी। जबकि नांदल भवन बोहर गांव की जमीन में बना है।

फिर उठा आरक्षण आंदोलन के चंदे का मामला
खाप प्रवक्ता मा. देवराज नांदल ने कहा कि 20 अक्तूबर को नांदल खाप मिलन समारोह पूरे धूमधाम से नांदल भवन में मनाया जाएगा। इसमें पूर्व कार्यकारिणी द्वारा लिये गए चंदे के एक-एक पैसे का हिसाब लिया जाएगा। हिसाब न देने वालों पर कार्रवाई का निर्णय समाज की ओर से लिया जाएगा। वरिष्ठ सदस्य सतबीर सिंह शास्त्री ने कहा कि आरक्षण आंदोलन के समय नांदल भवन पर लोगों ने पीड़ित युवाओं की सहायता के लिए दिन खोलकर चंदा दिया था, चंद आदमियों की कमेटी बनाकर हड़प लिया। बहुत से पीड़ितों को मदद नहीं मिली।

ये आरोप सिर्फ बदनाम करने की साजिश
बिना सोचे, समझे और परखे किसी पर भी आरोप लगाना गलत है। यह पूरी तरह से एक राजनीतिक षड़यंत्र नजर आ रहा है, जिसके तहत मुझे सिर्फ बदनाम करने की साजिश रची जा रही है। यदि आरोप सही है तो सबूत पेश किए जाएं और गलत लोगों पर केस करवाकर कार्रवाई की जाए। जहां तक आरक्षण आंदोलन में चंदे और सहायता राशि की बात है तो पूरी राशि एक बैंक खाते में रखी गई। हरेक लेन-देन चैक से किया गया। ना तो कैश लिया गया और ना ही कैश में दिया गया। ऐसे में कोई चूक होना असंभव है। जिसे रिकार्ड जांचना है वह आकर देख लें। -महेंद्र सिंह नांदल, प्रधान, सर्वखाप पंचायत, रोहतक-झज्जर-सोनीपत।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- किसी अनुभवी तथा धार्मिक प्रवृत्ति के व्यक्ति से मुलाकात आपकी विचारधारा में भी सकारात्मक परिवर्तन लाएगी। तथा जीवन से जुड़े प्रत्येक कार्य को करने का बेहतरीन नजरिया प्राप्त होगा। आर्थिक स्थिति म...

और पढ़ें