• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Rohtak
  • Mahara IIM Became Number 1 In The World In MBA Program, Supreme Court Justice Surya Kant Arrived As The Chief Guest, Inaugurated The New Hostel

आईआईएम का स्थापना दिवस:एमबीए प्रोग्राम में दुनिया में नंबर 1 बना म्हारा आईआईएम, सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस सूर्यकांत बतौर मुख्य अतिथि पहुंचे, नए छात्रावास का किया उद्घाटन

रोहतक2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

आईआईएम रोहतक ने अपनी लैंगिक विविधता के जरिए देश के अन्य प्रबंधन संस्थानों के लिए एक बेंचमार्क स्थापित किया है। वर्ष 2017 में एमबीए प्रोग्राम में 9 फीसदी छात्राओं से अब नया बेंचमार्क तय किया है। इसी के साथ आईआईएम अब अपने एमबीए प्रोग्राम में महिलाओं के प्रतिनिधित्व के मामले में दुनिया में नंबर एक पर पहुंच गया है।

खास बात यह है कि वर्ष 2020 और 2021 में दो साल के लिए 70 फीसदी छात्राओं ने दाखिला लिया है। जस्टिस सूर्यकांत ने कहा कि यह अच्छा है कि लगातार बैक टू बैक दो साल में 70 फीसदी से अधिक महिला उम्मीदवारों की उपस्थिति आईआईएम में विविधता का प्रमाण है। आईआईएम रोहतक के 13वें स्थापना दिवस पर सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस सूर्यकांत शुक्रवार को बतौर मुख्य अतिथि पहुंचे। उन्होंने संस्थान के 200 एकड़ के अत्याधुनिक परिसर में एक नए छात्रावास भवन का भी उद्घाटन किया।

उन्होंने कहा कि आईआईएम 13 वर्षों में बड़े समुदाय को प्रबंधन ज्ञान प्रदान करने का प्रमुख केंद्र बन गया है। एक नया संस्थान होने के बावजूद आईआईएम ने मैनेजमेंट स्टडी के सभी क्षेत्रों में योगदान दिया है। कानून में इंटीग्रेटेड कोर्स मैनेजमेंट और कानून के क्षेत्र में संस्थान की सबसे नवीन पहल है। उन्होंने स्टूडेंट्स को संबोधित करते हुए कहा कि मुझे यकीन है कि इस संस्थान में आपको सीखने, शोध करने और उस पर चिंतन करने के लिए एक उत्कृष्ट माहौल मिलेगा जो आपको खुद को सफल पेशेवरों के रूप में विकसित करने में मदद करेगा।

अगले साल देश का सबसे बड़ा आईआईएम होगा आईआईएम के डायरेक्टर प्रो. धीरज शर्मा ने कहा कि 2022 में आईआईएम देश का सबसे बड़ा आईआईएम होगा। आईआईएम ने विभिन्न छात्र समूहों के लिए कई नए और अभिनव कार्यक्रम शुरू करके अधिक से अधिक योग्य छात्रों को अधिकतम अवसर प्रदान करने का प्रयास किया है। आईआईएम 2018 में बीबीए विद एमबीए डिग्री प्रोग्राम शुरू करने वाला पहला आईआईएम रहा।

अब, आईआईएम बीबीए विद एलएलबी इंटीग्रेटेड डिग्री प्रोग्राम शुरू करने वाला पहला और एकमात्र आईआईएम बन गया है। आईआईएम पहला और एकमात्र संस्थान है जो 2018 से खेल प्रबंधन में दो साल का स्नातकोत्तर डिप्लोमा प्रदान करता है। अब हम और अधिक कार्यक्रम शुरू करने और अपने गुड़गांव परिसर में मौजूदा कार्यक्रमों का विस्तार करने के लिए तैयार हैं।

प्रो. धीरज शर्मा ने कहा कि आईआईएम रोहतक गृह मंत्रालय, पर्यटन मंत्रालय, भारत सरकार के साथ कई परियोजनाओं के लिए नोडल एजेंसी के रूप में काम कर रहा है। हरियाणा, राष्ट्रीय पुलिस अकादमी और उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय सहित कई अन्य इसमें शामिल हैं।

खबरें और भी हैं...