मां-बाप को मारने वाला बेटा गिरफ्तार:UP से लेकर आए देशी कट्‌टे से की हत्या, वारदात के बाद चला गया हरिद्वार

रोहतक4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

हरियाणा के जिला रोहतक की जनता कॉलोनी में हुए होटल संचालक दंपति का हत्यारोपी बेटे तरुण को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी तरुण ने पुलिस पूछताछ में बताया कि वह कई दिनों से अपने माता-पिता की हत्या की फिराक में था। इसलिए उत्तर प्रदेश से देश कट्‌टा खरीदकर लाया था। जब शुक्रवार-शनिवार रात को हुए झगड़े के बाद दोनों मां निशा व पिता चंद्रभान अंदर कमरे में सो रहे थे तो उनको गोली मार दी।

पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया गया हत्यारोपी तरुण
पुलिस द्वारा गिरफ्तार किया गया हत्यारोपी तरुण

पुलिस जांच के अनुसार आरोपी ने पहले मां को गोली मारी और बाद में पिता को। हत्या की वारदात को अंजाम देकर वह घर से फरार हो गया। ताकि पुलिस की पकड़ में ना आए। हत्या के बाद बस में बैठकर पानीपत के रास्ते हरिद्वार चला गया। वहां पर रहने के बाद रविवार रात को वापस लौटा था। जब आरोपी रोहतक के रेलवे स्टेशन एरिया में पहुंचा तो पुलिस को गुप्त सूचना मिली।

पुलिस ने सूचना के आधार पर आरोपी को पकड़ने के लिए धरपकड़ शुरू कर दी। इस दौरान आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। हालांकि हत्या की वारदात में इस्तेमाल हथियार अभी तक बरामद नहीं हुआ है। यह जानकारी अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कृष्ण कुमार लोहचब पत्रकार वार्ता के दौरान दी। उन्होंने कहा कि प्रारंभिक पूछताछ में हत्या की वारदात कबूल की है। अभी हत्या से संबंध में काफी पूछताछ बकाया है।

मामले की जानकारी देते हुए एएसपी कृष्ण कुमार
मामले की जानकारी देते हुए एएसपी कृष्ण कुमार

ये था मामला
बता दें कि शनिवार अल सुबह जनता कॉलोनी स्थित अपने घर पर सो रहे ताला होटल संचालक चंद्रभान व उनकी पत्नी निशा की बेटे ने ही गोली मारकर हत्या कर दी थी। मृतक दंपति की बेटी चांदनी ने पुलिस को दी शिकायत में बताया था कि उसका भाई तरुण नशे व जुआ खेलने का आदी था। जिसके कारण तरुण के सिर पर कर्ज हो रखा था। अब उसका भाई अपने मां-बाप पर होटल व प्रॉपर्टी नाम करवाने का दबाव बना रहा था। जिसके लिए पहले भी कई बार जान से मारने की धमकी दे चुका था। शनिवार को हत्या ही कर दी।

हत्या से पहले भी हुआ झगड़ा
एएसपी कृष्ण कुमार लोहचब ने बताया कि जिस दिन तरुण ने हत्या की वारदात को अंजाम दिया उस दिन भी उसका अपने मां-बाप के साथ झगड़ा हुआ था। लेकिन झगड़े के बाद एक बाद तो वह चला गया। लेकिन फिर से आकर हत्या की वारदात को अंजाम दिया है।

दिन में सोता था और रात को जगता था
पुलिस जांच में सामने आया कि आरोपी तरुण नशे का आदी था। साथ ही नशे के कारण दिनचर्या भी बदल रखी थी। रात को सोने की बजाय जगता रहता था और शराब आदि का नशा करता रहता। वहीं रातभर नशा करने के बाद दिन में सोया करता था।

होटल व प्रॉपर्टी नाम ना करवाना हत्या की वजह
एएसपी कृष्ण कुमार ने बताया कि अभी तक हुई जांच में सामने यह आया है कि आरोपी तरुण नशे का आदी था। जिस पर करीब 15-16 लाख का कर्ज भी था। अब वह अपने मां-बाप पर होटल व प्रॉपर्टी नाम करने का दबाव बना रहा था। ताकि वह होटल को बेचकर अपना कर्ज उतार साके।