• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Rohtak
  • Rohtak Police Assault With Lawyer Updates: On The Call Of Rohtak Bar Association, Lawyers Will Suspend Work Across The State Today

पुलिस की मारपीट से वकील नाराज:आरोपी पुलिसवालों पर कानूनी कार्रवाई न होने से नाराज रोहतक बार ने किया प्रदेश में वर्क सस्पेंड का आह्वान

रोहतकएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सोमवार शाम को वर्क सस्पेंड पर बैठे वकीलों को समझाने पहुंचे डीएसपी मुख्यालय सज्जन सिंह। - Dainik Bhaskar
सोमवार शाम को वर्क सस्पेंड पर बैठे वकीलों को समझाने पहुंचे डीएसपी मुख्यालय सज्जन सिंह।

हरियाणा के रोहतक जिले में पिछले दिनों वकील के साथ थाने में पुलिसकर्मियों द्वारा गाली-गलौज और मारपीट करने का मामला अब लगातार तूल पकड़ता जा रहा है। मामले को 5 दिन हो गए हैं। इन 5 दिनों में से 3 दिन रोहतक के वकीलों ने वर्क सस्पेंड रखा। पुलिस उच्च अधिकारियों ने मिल कर आरोपी पुलिसकर्मियों पर केस दर्ज कर कानूनी कार्रवाई करने की मांग की।

मगर वकीलों की सुनवाई नहीं हुई। इसके चलते आज रोहतक बार के आह्वान पर प्रदेशभर में वकील वर्क सस्पेंड करेंगे। वकीलों के वर्क सस्पेंड करने के आह्वान पर देर शाम डीएसपी सज्जन कुमार उनके बीच पहुंचे और कार्रवाई का आश्वासन दिया। लेकिन अधिवक्ता सुनने को तैयार नहीं थे। अधिवक्ताओं ने एकजुट होकर प्रदेश भर में वर्क सस्पेंड का आह्वान कर दिया।

रोहतक बार एसोसिएशन द्वारा प्रदेश भर में वर्क सस्पेंड रखने का जारी किया गया आह्वान पत्र।
रोहतक बार एसोसिएशन द्वारा प्रदेश भर में वर्क सस्पेंड रखने का जारी किया गया आह्वान पत्र।

थाना प्रभारी और अन्य पुलिसकर्मियों पर केस दर्ज करने कीमांग

अधिवक्ताओं की तरफ से कमेटी बनाई गई थी। कमेटी के सदस्य एसपी से भी मिले थे। मीटिंग में एसपी ने दो दिन का समय मांगा था। अधिवक्ता मांग कर रहे हैं कि थाना प्रभारी और अन्य पुलिसकर्मियों पर केस दर्ज करके कार्रवाई की जाए। दो दिन का समय पूरा होने के बाद कोई कार्रवाई नहीं हुई तो अधिवक्ताओं ने सोमवार को वर्क सस्पेंड रखा।

शाम के समय अधिवक्ताओं से बातचीत करने के लिए डीएसपी सज्जन कुमार उनके बीच पहुंचे। काफी देर रात डीएसपी ने उनसे बातचीत कर मामले को सुलझाने की कोशिश की, लेकिन बात नहीं बन सकी अधिवक्ता जिद पर अड़े रहे कि पुलिसकर्मियों पर पहले कार्रवाई की जाए, उसके बाद ही कोई बातचीत होगी।

आरओ अनिल ने बताया कि कमेटी के लोगों की सहमति के बाद प्रदेश भर में वर्क सस्पेंड का आह्वान किया गया है। इसके लिए सभी बार एसोसिएशन को कॉल कर दी गई है। पुलिस की गुंडागर्दी को बर्दास्त नहीं किया जाएगा।

यह था मामला

अधिवक्ता राज सिंह गुरुवार को किसी पारिवारिक मामले को लेकर शिवाजी कालोनी थाने में गए थे। अधिवक्ता ने आरोप लगाया कि इस दौरान पुलिसकर्मियों ने थाने के अंदर से उनसे गाली-गलौज की। विरोध करने पर उनके साथ मारपीट भी की गई। उस समय थाना प्रभारी भी मौके पर ही मौजूद थे। अधिवक्ता के साथ हुई इस घटना के बाद शुक्रवार को बार एसोसिएशन के अधिवक्ता एकजुट हो गए थे और उन्होंने वर्क सस्पेंड रखा था।