पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

फसल की बिक्री:पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन से ही किसान अनाज मंडी में बेच सकेंगे फसल

रोहतक12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर रजिस्टर्ड किसान किसी भी दिन आकर अनाज मंडी में अपनी फसल की बिक्री बिना किसी रुकावट के ही कर सकेंगे। सरकार की ओर से रजिस्ट्रेशन के बावजूद पोर्टल से मैसेज भेजने की अनिवार्यता खत्म कर दी गई है।

बुधवार को रोहतक अनाज मंडी में 156 किसानों को गेटपास दिए गए हैं। उनसे 18 हजार 729 क्विंटल गेहूं की खरीददारी की गई। जबकि 3 हजार क्विंटल सरसों की भी बिक्री हुई है।

मंडी के ऑक्शन रिकॉर्डर वीरेंद्र बल्हारा ने कहा कि यदि किसान मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर पंजीकृत हैं तो वे बेहिचक किसी भी दिन मंडी आकर गेहूं की फसल बेच सकते हैं। उनको कोई भी दिक्कत नहीं आने दी जाएगी। वहीं उपायुक्त कैप्टन मनोज कुमार ने कहा कि किसान पर्यावरण को दृष्टिगत रखते हुए फसल अवशेषों को न जलाएं, बल्कि उन्हें मिट्टी में मिलाकर भूमि की उपजाऊ शक्ति को बढ़ाएं।

फसल अवशेषों को जलाने से पर्यावरण को हानि होने के साथ-साथ पशुओं के चारे की कमी होती है तथा भूमि में मौजूद मित्र कीट नष्ट हो जाते हैं। इसलिए फसल अवशेषों को आग न लगाएं। जिला प्रशासन द्वारा फसल अवशेषों को जलाने वाले किसानों के विरूद्घ कार्यवाही की जाएगी।

रोहतक में 156 किसानों को गेट पास दिए गए ,18 हजार 729 क्विंटल गेहूं की खरीदारी

कलानाैर में 59 से खरीदा 7025 क्विंटल गेहूं

कलानौर, कलानौर अनाज मंडी में बुधवार को 59 किसान पहुंचे और 7025 क्विंटल गेहूं की खरीद हुई। कुछ किसानों के गेहूं में नमी अधिक बताकर फसल नहीं खरीदी गई।

गेहूं व सरसों की खरीद जारी, फसल साफ कर मंडियों में लाएं : डीसी

उपायुक्त कैप्टन मनोज कुमार ने बताया कि जिले की मंडियों व खरीद केंद्रों में गेहूं व सरसों खरीद का कार्य जारी है। गत मंगलवार तक जिला की विभिन्न मंडियों में 5518 टन गेहूं की खरीद की गई है। रोहतक मंडी में 66 टन जौ की खरीद व्यापारियों द्वारा की गई है। विभिन्न मंडियों में 755 टन सरसों की खरीद भी हुई है। सरकार द्वारा गेहूं के लिए 1975 रुपए प्रति क्विंटल एवं सरसों के लिए 4650 रुपए प्रति क्विंटल न्यूनतम समर्थन मूल्य की घोषणा की गई है। जिला प्रशासन द्वारा सभी मंडियों में सभी मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध करवाई गई हैं। उपायुक्त ने बताया कि जिला में गत मंगलवार तक 5518 टन गेहूं की खरीद की गई है। कलानौर मंडी में 399 टन गेहूं की खरीद की गई है। महम मंडी में 543 टन, रोहतक मंडी में 993 टन तथा सांपला मंडी में 3979 टन गेहूं की खरीद की गई है। रोहतक मंडी में 818 टन सरसों तथा 66 टन जौ की खरीद हुई है। सांपला मंडी में 38 टन सरसों की खरीद की गई है।

5 दिनों में आया 30 हजार क्विंटल, खरीदा 5 हजार क्विंटल गेहूं

महम, महम मंडी में हैफेड व वेयर हाउस द्वारा किसानों का गेहूं खरीदा जा रहा है। 3 से 7 अप्रैल तक मंडी में करीब 30 हजार क्विंटल गेहूं की आवक हुई है जबकि दोनों खरीद एजेंसी ने अभी तक 5 दिनों में केवल 5 हजार क्विंटल के लगभग किसानों का गेहूं खरीदा है। ऐसे में गेहूं का उठान भी नहीं हो पा रहा है।

आगामी दो दिनों के बाद मंडी में गेहूं की आवक जरूरत से अधिक हो जाएगी। गेहूं लेकर मंडी में आए किसानों का कहना है कि खरीद एजेंसी के अधिकारी गेहूं के ढेरों में अनेक कमियां निकालते हुए उन्हें खरीदने से इंकार कर रहे हैं। किसी में खरपतवार तो किसी में नमी बताकर गेहूं को रिजेक्ट किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि गेहूं मंडी प्लेटफार्म पर खुले में पड़ा है। बारिश आई तो उनकी मेहनत पर पानी फिर जाएगा।

किसान राजबीर, अंकित, सुमेर ने बताया कि उन्होंने 5 व 6 अप्रेल को मेरी फसल मेरा ब्याेरा पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन किया था। वे मंडी में गेहूं लेकर आए तो उनका गेट पास नहीं निकला। कर्मचारियों ने कहा कि उनका नंबर रजिस्टर्ड नहीं हुआ है। किसानों ने बताया कि बगैर गेट पास के उनके गेहूं की बिक्री नहीं होगी। अब उनकी परेशानी बढ़ गई है।

खरीद एजेंसी वेयर हाउस के परचेज अधिकारी सुनील कुमार ने बताया कि गेहूं में नमी व खरपतवार है। आढ़ती पंखा व झरना लगाकर सफाई नहीं करवा रहे। उन्होंने कहा कि बुधवार को 2857 क्विंटल गेहूं खरीदा गया हैं।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आपकी मेहनत और परिश्रम से कोई महत्वपूर्ण कार्य संपन्न होने वाला है। कोई शुभ समाचार मिलने से घर-परिवार में खुशी का माहौल रहेगा। धार्मिक कार्यों के प्रति भी रुझान बढ़ेगा। नेगेटिव- परंतु सफलता पा...

    और पढ़ें