पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Rohtak
  • Open Cotton Purchasing Center In Rohtak; Farmers Sell At A Cheap Price Even If They Do Not Buy In Maham By Applying The Fare

धान खरीदी:रोहतक में खुले कपास खरीद केंद्र; किसान बोले-किराया लगाकर भी महम में खरीद न होने पर सस्ते दाम में बेचते हैं

रोहतक8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अनाज मंडी में धान आने से परिंदों की मौज हो गई। दिनभर धान की ढेरियों पर कबूतर अठखेलियां कर उसे खाते रहते हैं। - Dainik Bhaskar
अनाज मंडी में धान आने से परिंदों की मौज हो गई। दिनभर धान की ढेरियों पर कबूतर अठखेलियां कर उसे खाते रहते हैं।
  • जिले की अलग-अलग मंडियों में बाजरा, कोटन व पीआर धान की खरीद जारी, किसानाें ने बताई समस्याएं
  • प्रशासन का दावा : रोहतक मंडी में 85 किसानों का 1865 क्विंटल बाजरा खरीदा, 1250 क्विंटल हुई लिफ्टिंग

जिले की अलग-अलग मंडियों में बाजरा, कोटन व पीआर धान की खरीद जारी है। मंगलवार को भी किसान अपनी फसल लेकर मंडी में पहुंचे। किसानों के बताया कि उन्हें अपनी फसल बेचने के लिए परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। मंडी में पहुंचे गढ़ी बलभ से किसान अशोक और जगबीर सिंह ने बताया कि रोहतक में कपास के लिए खरीद केंद्र बनाया जाए। उन्हें कपास बेचने के लिए महम में जाना पड़ता है।

वहां जाने के बाद यदि फसल की खरीद नहीं हुई तो किराया भी लगता है और या उन्हें कम रेट पर फसल बेचनी पड़ती है। डीसी कैप्टन मनोज कुमार ने बताया कि मंगलवार काे जिले की अलग-अलग मंडियों से लगभग पौने चार सौ किसानों की बाजरा, कोटन व पीआर धान की खरीद की। कहा कि जिला की मंडियों में खरीफ फसल की खरीद व उठान का कार्य सुचारू रूप से जारी है।

डीसी ने बताया कि मंगलवार काे रोहतक मंडी में 85 किसानों का 1865 क्विंटल बाजरा खरीदा गया, जबकि 1250 क्विंटल बाजरे की लिफ्टिंग की गई। उन्होंने बताया कि रोहतक मंडी में 9 किसानों का 990 क्विंटल पीआर धान खरीदा गया। उन्होंने बताया कि अब तक 1350 क्विंटल पीआर धान की लिफ्टिंग की जा चुकी है। महम मंडी में कोटन खरीद की जानकारी देते हुए उपायुक्त कैप्टन मनोज कुमार ने बताया कि 46 किसानों की 1358 क्विंटल कोटन खरीदी गई और अब तक मंडी में 1975 क्विंटल कोटन खरीदी जा चुकी है।

डीसी कैप्टन मनोज कुमार ने बताया कि महम मंडी में बाजरा की खरीद के लिए आज 93 गेट पास जारी किए गए और दो हजार 56 क्विंटल बाजरे की खरीद की गई। अब तक महम मंडी में 18137 क्विंटल बाजरे की खरीद की जा चुकी है। उन्होंने बताया कि मंगलवार काे महम मंडी से 400 क्विंटल बाजरे की लिफ्टिंग की गई, जबकि अब तक 11650 क्विंटल बाजरे की लिफ्टिंग मंडी से की जा चुकी है। सांपला मंडी में 2716 क्विंटल बाजरे की खरीद की गई, जबकि 2500 क्विंटल बाजरे का उठान किया गया। कलानौर सब यार्ड के बारे में उन्होंने बताया कि कलानौर में 40 किसानों का 970 क्विंटल बाजरा खरीदा गया और अब तक यहां पर 5975 के मंडल बाजरे की खरीद की जा चुकी है।

स्पेशल गिरदावरी नहीं होने पर किसानों में राेष, आंदोलन की चेतावनी
जिले में बर्बाद हुई कपास व अन्य फसलों की अभी तक स्पेशल गिरदावरी के आदेश जारी न होने पर किसान सभा ने रोष प्रकट किया। चार जिलों में ये आदेश आ चुके है, इसमें रोहतक को छोड़ दिया। अगर जल्द आदेश नहीं आते तो किसान आंदोलन करेंगे। यह जानकारी मंगलवार को किसान सभा के प्रतिनिधिमंडल ने डीसी से किसानों की समस्याओं पर बात करने के बाद दी। किसान सभा जिला प्रधान प्रीत सिंह ने कहा कि प्रदेश के कई जिलों में कपास व अन्य खरीफ की फसलों को सफेद मक्खी व सूखे से नुकसान हुआ है, जिसकी जांच जिला प्रशासन करवा चुका है।

उनके अनुसार प्रशासन सरकार को रिपोर्ट भेज चुका है। परंतु सरकार की ओर से बर्बाद हुई फसलों की स्पेशल गिरदावरी के आदेश न आने से किसानों में रोष है। बिना स्पेशल गिरदावरी हुए किसानों को बर्बाद फसलों का मुआवजा नहीं मिलेगा। जिला कोषाध्यक्ष बलवान खरक ने बताया कि किसान सभा लगभग एक माह से जिला प्रशासन से बर्बाद फसलों की स्पेशल गिरदावरी करवाने की मांग कर रही है। किसान सभा प्रशासन से जल्द से जल्द कपास व अन्य खरीफ की फसलों की स्पेशल गिरदावरी के आदेश मंगवा गिरदावरी करवाने की मांग कर रही है। किसान सभा के प्रतिनिधिमंडल ने किसानों की समस्याओं बारे डीसी से मुलाकात की। इसमें पहले के फसलों के खराबे का मुआवजा वितरित करने, खरीद प्रणाली को सुचारू रूप से चलने व अन्य मांगो को उठाया गया। प्रतिनिधिमंडल में अशोक, खेमचंद ,सुनिल भी शामिल रहे।

खबरें और भी हैं...