तैयारियां तेज:प्राणवायु पर नजर, सोशल मीडिया पर बनाया ऑक्सीजन वाररूम

रोहतक6 महीने पहलेलेखक: रत्न पंवार
  • कॉपी लिंक

ऑक्सीजन की मांग को देखते हुए प्रशासन ने भी तैयारियां तेज कर दी है। अब प्रदेश के किस जिले के किस अस्पताल में कितनी ऑक्सीजन कब और किस समय पहुंचाई जानी है, इसे लेकर मॉनिटरिंग की जा रही है। चंडीगढ़ मुख्यालय की ओर से 24 गुणा 7 ऑक्सीजन की डिमांड और सप्लाई पर नजर रखने के लिए ऑक्सीजन वार रूम नाम से सोशल मीडिया पर ग्रुप तैयार किया है।

इस ग्रुप में चीफ सेक्रेटरी से लेकर डीसी, ड्रग कंट्रोल ऑफिसर के साथ-साथ ऑक्सीजन की प्रदेश में सप्लाई देने वाले सप्लायर्स को भी जोड़ा गया है। फिलहाल हरियाणा का 162 मीट्रिक टन ऑक्सीजन का कोटा निर्धारित है। अब सरकार की ओर से इस कोटे को बढ़ाकर 200 मीट्रिक टन तक किया जाने की तैयारी की जा रही है। इसके अतिरिक्त 240 मीट्रिक टन ऑक्सीजन के लिए केंद्र सरकार को आवेदन किया जा चुका है। डीसी कैप्टन मनोज कुमार ने बताया कि टीम सोशल मीडिया से 24 घंटे जुड़ी हुई है।

अब राऊरकेला और भिलाई से भी मिलेगी ऑक्सीजन

मेयर मनमोहन गोयल ने बताया कि बुधवार काे चंडीगढ़ से बात करने पर पता चला है कि अब राऊरकेला और भिलाई से ऑक्सीजन की सप्लाई मंगवाई जाने की सहमति बनी है। इससे अब प्रदेश का कोटा 262 मीट्रिक टन तक पहुंच गया है।

वहीं उद्योगपति नवीन जिंदल से बातकर प्रदेश में 5 मीट्रिक टन लिक्विड ऑक्सीजन भेजने की बात बनी है। इसके अलावा कर्नाटक और छत्तीसगढ़ से भी ऑक्सीजन के लिए बात की गई है, लेकिन केंद्र सरकार एलोकेशन करेगी तभी बात बनेगी।

खबरें और भी हैं...