पलवल में दुष्कर्म के दो केस:नाबालिग का अपहरण कर सामूहिक रेप; महिला से पिस्तौल के बल पर किया गंदा काम

पलवल2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

हरियाणा के पलवल में दुष्कर्म के दो मामले सामने आए हैं। कार सवार युवकों ने पशुओं को तालाब पर लेकर गई नाबालिग लड़की क अपहरण कर फिरोजपुर झिरका ले जाकर सामूहिक रेप किया। दूसरे मामले में घर में घुस कर महिला को पिस्तौल से गाेली मारने की धमकी देकर उसको हवस का शिकार बनाया गया। दोनों मामलों में पुलिस ने केस दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है। फिलहाल आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

केस-1: गाड़ी में उठाकर ले गए

पलवल महिला थाना प्रभारी रेणू देवी ने बताया कि 17 वर्षीय लड़की ने शिकायत दी कि 4 जून को वह गांव में ही बने तालाब में अपने पशुओं को पानी पिलाने गई थी। उसी दौरान कार लेकर मुकीन, साहिल, समसु व शहनाज पहुंचे। युवकों ने उसे जबरन उठा कर गाड़ी में डाल लिया। फिर वे उसे कार में अपहरण कर फिरोजपुर झिरका ले गए। उसने विरोध किया तो जान से मारने की धमकी दी। नाबालिगा का कहना है कि फिरोजपुर झिरका लेकर जाकर युवकों ने उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया।

घर आकर बताई आपबीती

इसके बाद युवक उसे छोड़कर मौके से फरार हो गए। किसी तरह से वह अपने घर पहुंची और परिजनों को पूरी बात बताई। इसके बाद वह अपने परिजनों के साथ महिला थाना आयी और पुलिस को शिकायत दी। शिकायत के बाद पुलिस ने लड़की का मेडिकल चैकअप कराया और इसमें दुष्कर्म की पुष्टि होने पर आरोपियों के खिलाफ सामूहिक दुष्कर्म सहित विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।

केस-2: महिला से घर में घुस कर रेप

पलवल सदर थाना प्रभारी अनिल कुमार ने बताया कि गांव निवासी विवाहिता ने शिकायत में कहा है कि उसका पति काम की वजह से ज्यादातर समय घर से बाहर रहता है। वह दो बच्चों के साथ जंगल में बने घर में रहती है। उसका आरोप है कि कारे और सौरभ नामक व्यक्ति रात के समय बाइक पर उसके घर के पास पहुंचे। बाइक की आवाज सुनकर नींद खुल गई तो वह गेट की तरफ आई। इसी दौरान कारे उर्फ करण और सौरभ ने उस पर पिस्तौल तान दी और गोली मारने की धमकी दी।

परिजनों ने किया कमरे में बंद

पिस्तौल देखकर डर के मारे उसकी आवाज नहीं निकली। इसके बाद कारे उसका हाथ पकड़ कर कमरे में खींचकर ले गया और हथियार के बल पर उसके साथ दुष्कर्म किया। सौरभ देशी कट्टा लेकर कमरे के बाहर खड़ा रहा। इसी दौरान बाइक की आवाज सुनकर उसके अन्य परिजन भी घर की तरफ आ गए। इस बीच सौरभ घर से भाग गया, जबकि कारे उर्फ करण को उसके परिजनों ने कमरे में बंद कर दिया। वह उसके सिर पर कट्टा लगाकर गोली मारने की धमकी देते हुआ बाद में फरार हो गया। उनका देशी कट्टा भागते समय वहीं गिर गया और बाइक भी वे नहीं ले जा सके। पुलिस ने केस दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है।