पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पेजयल काे लेकर बवाल:पानी काे लेकर एसई कार्यालय पर धरना, सीवर मैनेजमेंट विंग अधिकारी काे एसई समझ पीटने काे चप्पल निकाली

रोहतक11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • 5 कॉलोनियों के लाेग परेशान, अफसरों ने शाम तक पानी आपूर्ति बहाल करने का दिया आश्वासन तो माने

पेयजल संकट से नाराज 5 कॉलोनी वासियों ने मंगलवार को पब्लिक हेल्थ विभाग के एसई कार्यालय पर धरना दिया। 3 घंटे इंतजार के बाद पहुंचे अधिकारियों को देखते ही भड़के लोगों ने उनसे सवाल-जवाब शुरू कर दिया। यह भी पूछ लिया कि वे 10 दिन से बूंद बूंद पीने के पानी के लिए तरस रहे हैं। फिर भी फूंकी मोटर अभी तक क्यों नहीं बनवाई गई। इस पर शाम तक पानी की आपूर्ति बहाल करने के आश्वासन पर लोग लौटे। लेकिन जाते जाते उन्होंने घरों में पानी की दिक्कत होने पर दोबारा द्वितीय जलघर के सामने धरना-प्रदर्शन की चेतावनी दी है।

मंगलवार सुबह करीब 9:30 बजे कॉलोनी वासियों के साथ नगर निगम के डिप्टी मेयर अनिल कुमार द्वितीय जलघर परिसर में पहुंचे। जब अधिकारी नहीं पहुंचे तो लोगों ने नारेबाजी शुरू कर दी। इस दौरान फोन डिप्टी मेयर ने पब्लिक हेल्थ विभाग के एसई राजीव गुप्ता व एक्सईएन भानु प्रकाश शर्मा ने बात की। उन्होंने आने को भी कहा। लेकिन अधिकारी दोपहर 12:30 बजे अपने कार्यालय पहुंचे।

इसके पहले एसई के कार्यालय में दूसरी तरफ से अपने आने की गलतफहमी में कार्यालय के बाहर इंतजार कर रहीं महिलाएं पहुंच गई। वहां पर सीवर मैनेजमेंट विंग के एक अधिकारी मौजूद थे। उनको ही एसई समझकर एक महिला ने चप्पल निकाल ली। हालांकि मौके पर उपस्थिति लोगों ने मामला शांत करा दिया। बाद में एसई राजीव गुप्ता से कॉलोनी वासियों ने शिकायत दी।

इन काॅलाेनियां में पीने के पानी की आ रही दिक्कत
झज्जर रोड द्वितीय जलघर से शीतलनगर, अमृत कॉलोनी, रामनगर, राजीव नगर व एकता कॉलोनी में पीने के पानी की आपूर्ति होती है। लेकिन यहां पर 10 दिन से पानी की सप्लाई बाधित चल रही है। इसकी वजह जलघर से इन कॉलोनियों में पानी की आपूर्ति के लिए लगाई गई 60 एचपी की मोटर का फूंकना है। जिसे पब्लिक हेल्थ ठीक नहीं कर रहा था। लाेगाें ने कहा कि और एक मोटर का इंतजाम विभाग की ओर से किया जाए। ताकि कोई दिक्कत आने के बाद उस मोटर से पानी की आपूर्ति सुनिश्चित की जा सके।

अफसरों की गलती भुगत रहे आमजन, दोबारा परेशानी पर आंदोलन करेंगे
अधिकारियों की लापरवाही का खामियाजा आमजन को भुगतना पड़ रहा है। 10 दिन से 5 कॉलोनियों के हजारों परिवार पीने के पानी की मुश्किल झेल रहे हैं। समस्या का समाधान करने की बजाए अधिकारी मात्र आश्वासन देते आए हैं। इससे गुस्साए लोगों ने मंगलवार को एसई कार्यालय पर 3 घंटे धरना दिया। तब जाकर शाम को पानी की आपूर्ति जलघर से की गई। दोबारा जल संकट आया तो लोग बेमियादी आंदोलन करेंगे। -अनिल कुमार, डिप्टी मेयर नगर निगम

पेयजलापूर्ति बहाल, और एक मोटर मंगवाई
मोटर ठीक करवाकर लगवा दी गई है। मंगलवार दाेपहर बाद 3:35 से शाम 5:35 बजे तक 2 घंटे संबंधित कॉलोनियों में पानी की आपूर्ति की गई है। अब पानी की कोई समस्या नहीं है। वैकल्पिक व्यवस्था के तहत और एक 65 एचपी की मोटर मंगवा ली गई है, जिससे पानी की सप्लाई में कोई व्यवधान न हो पाए।-भानु प्रकाश शर्मा, एक्सईएन पब्लिक हेल्थ विभाग

खबरें और भी हैं...