पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

भास्कर स्टिंग:दवाई कोड में बिक रही कच्ची शराब, 33 जान जाने के बावजूद नहीं चेते लोग व प्रशासन

रोहतक2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • खिड़वाली बना कच्ची शराब का गढ़, खुलेआम बिकती है शराब, कई घर जहरीले धंधे में लिप्त
  • हर शराबी को पता कच्ची शराब का पता, मौत के तांडव के बावजूद पुलिस ने 6 माह से रेड नहीं की

प्रदेश के कई जिलों में जहरीली शराब पीने से 33 लोगों की मौत हो चुकी है। पुलिस की ओर से इसके बाद जिला स्तर पर बड़े अभियान चलाए गए। अकेले रोहतक में रोजाना दो केस की औसत से शराब तस्करी के केस दर्ज हुए। बावजूद इसके रोहतक में कच्ची शराब का नेटवर्क पुलिस को सीधे चुनौती दे रहा है। तस्करों को कोई डर नहीं है। वो धड़ल्ले से लोगों तक अपनी हाथ निकाली शराब पहुंचा रहे हैं। कई गांव तो अपने खुद के ब्रांड के लिए मशहूर तक हो चुके हैं। रेट मनचाहे हैं। तस्कर अपने ग्राहक को गारंटी तक देते हैं कि क्वॉलिटी में उनकी एक बोतल शराब ठेके की तीन बोतल पर भारी पड़ेगी। हालांकि ये कितनी खतरनाक साबित हो सकती है इसे जानने के बावजूद भी लोग इन तस्करों के ग्राहक बने हुए हैं।

दैनिक भास्कर ने जिले के इन इलाकों में खुले तौर पर शराब बेचने वाले गांवों के इलाकों की हकीकत से सीधे रूबरू कराने का फैसला किया है। हमारे संवाददाता ने इस इलाके में जाकर सौदागरों के साथ शराब की खेप का मोल भाव किया। वहां के हालातों को अपने कैमरे में कैद किया। पुलिस की आंखों को खोलने के लिए पूरी कहानी को सामने ला रहे हैं।

दवाई मांगने पर कच्ची शराब सप्लायर के पास खुद पहुंचा देते हैं तस्करों के साथी
कच्ची शराब का नेटवर्क इस समय देहात से बड़े स्तर पर ऑपरेट हो रहा है। इस शराब के शौकीन ज्यादातर सीधे गांवों से ही शराब लेते हैं। तस्करों के साथी गांव में पहुंचते ही आपके दवाई मांगने पर सप्लायर के पास पहुंचा देते हैं। दवाई शब्द कच्ची शराब का कोड वर्ड है जो इन दिनों देहात में कच्ची शराब माफिया अपने ब्रांड के लिए प्रयोग कर रहा है।

आठ महीने पहले खिड़वाली में 7 मकानों में मारे छापे में मिला था 160 लीटर लाहन
पुलिस ने 8 महीने पहले खिड़वाली में छापा मार 160 लीटर लाहन बरामद किया था। 16 अप्रैल को थाना सदर और सीआईए-2 ने छापेमारी की थी। पुलिस ने अलग-2 आरोपियों के खिलाफ 7 मामले दर्ज किए थे। एक महिला तस्कर भी गिरफ्तार हुई थी। लेकिन इस छापेमारी के बाद पुलिस ने कभी गांव में कच्ची शराब को लेकर रेड नहीं की। बेखौफ शराब माफिया फिर से अपने धंधे को धड़ल्ले से चला रहा है।

कुछ गांव के ब्रांड शहर तक में पॉपुलर
जिले के गांव खिड़वाली समेत कई दूसरे ऐसे गांव भी हैं जिनके यहां निकाली कच्ची शराब इनके गांव के नाम से ब्रांड बन चुकी है। तस्करों ने शहर तक में अपने सप्लाई के ठिकाने बना लिए हैं। शहर में गांव के नाम से पॉपुलर ये ब्रांड धड़ल्ले से बिकते हैं।

शराब तस्करों के खिलाफ दो महीने में 117 केस हुए दर्ज, 139 किए गिरफ्तार
शराब तस्करों के खिलाफ बीते दो महीने में 117 केस दर्ज किए हैं। 139 आरोपियों को गिरफ्तार भी किया है। सिंतबर में 57 मामले दर्ज और 59 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया। आरोपियों से 1379 बोतल शराब देशी, 877 बोतल शराब अंग्रेजी, 115 बोतल बीयर व 101 लीटर लाहन बरामद हुआ। अक्टूबर 60 लोगो के खिलाफ केस दर्ज किए गए। 80 आरोपियों की गिरफ्तार हुई। इनसे 775 बोतल देसी शराब, 125 बोतल अंग्रेजी, 27 बोतल बीयर, 64 लीटर लाहन बरामद हुआ। साढ़े 40500 लीटर स्पिरिट बरामदगी का मामला भी इन्हीं दिनों हुआ।

जिले में अवैध शराब की बिक्री पर रोक लगाने के पूरे प्रयास किए जा रहे है। लोगों से अपील है कि कच्ची शराब न पीएं। क्योंकि ये हर हालत में जहरीली ही साबित होती है। तस्करी व बिक्री मामले में जो इनपुट मिले हैं उसके आधार पर पुलिस ग्रामीण इलाकों में कच्ची शराब निकालने वालों के खिलाफ अब विशेष अभियान चलाएगी। -गोरखपाल राणा, डीएसपी हेडक्वार्टर।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- जिस काम के लिए आप पिछले कुछ समय से प्रयासरत थे, उस कार्य के लिए कोई उचित संपर्क मिल जाएगा। बातचीत के माध्यम से आप कई मसलों का हल व समाधान खोज लेंगे। किसी जरूरतमंद मित्र की सहायता करने से आपको...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser