स्वच्छता सर्वेक्षण 2021:रोहतक की रैकिंग फिसली, फिर भी देश में 49वें और हरियाणा में दूसरे स्थान पर रहा

रोहतक7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

स्वच्छता सर्वेक्षण 2021 का परिणाम जारी हो गया है। देशभर में पहले स्थान इंदौर रहा है। 100 यूएलबी से कम राज्यों की कैटेगरी में हरियाणा ने दूसरा स्थान हासिल किया है। हरियाणा का स्कोर 1745 दर्ज किया गया। हरियाणा के तीन राज्यों को गोल्ड (अनुपम), सिल्वर (उज्जवल), (आरोही) सम्मान हासिल हुअा है। केंद्रीय मंत्री हरदीप पुरी ने हरियाणा को यह सम्मान दिया।

हरियाणा के इन शहरों ने बनाई जगह

स्वच्छता सर्वेक्षण में हरियाणा के 7 जिलों ने जगह बनाई है, जिनमें गुरुग्राम , रोहतक और करनाल को गोल्ड (अनुपम) अवार्ड मिला है। पंचकूला, फरीदाबाद और नीलोखेड़ी को सिल्वर (उज्जवल) सम्मान मिला है। वहीं अंबाला शहर को कांस्य (आरोही) सम्मान मिला है।

रोहतक की रैकिंग फिसली, फिर भी हासिल किया गोल्ड
स्वच्छता सर्वेक्षण-2021 में रोहतक की रैकिंग इस बार फिसल गई है। 2020 के परिणाम में रोहतक की रैंक 35वीं थी, लेकिन इस बार 49वें पायदान पर पहुंच गए हैं। हालांकि हरियाणा में दूसरा स्थान बरकरार है। दिल्ली में अवार्ड सेरेमनी में गुरुग्राम के साथ रोहतक को भी संयुक्त रूप से बेहतर प्रदर्शन के लिए सम्मानित किया गया है। इससे पहले रोहतक ओडीएफ प्लस-प्लस सर्टिफिकेट और कचरा मुक्त शहर घोषित हो चुका है।

स्वच्छ सर्वेक्षण में बेहतर परिणाम के 10 कारण

1. सभी पार्कों को साफ-स्वच्छ बनाने के साथ ही शौचालय निर्मित कराए।

2. कचरामुक्त शहर के लिए जनता का सहयोग, 90 डंपिंग जोन खत्म किए।

3. अधिकारियों ने प्लानिंग के साथ कर्मचारियों के साथ धरातल पर काम कराए।

4. स्वच्छता में अव्वल रहने वाले इंदौर के अनुभव रोहतक में साझा किए।

5. स्वच्छता में अव्वल रहने वाले शहरों की तर्ज पर कुछ नए कार्य कराए गए।

7. रिहायशी इलाकों में एक बार, बाजारों में दो बार सफाई कराने का कार्य कराया।

8. जनता ने सकारात्मक फीडबैक दिया, सर्विस लेवल को लेकर काम कराए।

9. घर-घर से कचरा उठवाने के लिए 64 वाहन, 250 रेहड़ी लगवाई गईं।

10. मुख्य सड़कों की सफाई तीन स्वीपिंग मशीन से कराना भी फायदेमंद रहा।

स्टार रेटिंग

गारबेज फ्री सिटी स्टार रेटिंग : कचरा मुक्त शहर

खुले में शौच मुक्त : ओडीएफ प्लस-प्लस