लूट का आरोपी कस्टडी से फरार:पलवल पुलिस जेल से लाई थी प्रोडक्शन वारंट पर; गुरुग्राम से लौटते वक्त खिड़की खोल भागा

पलवल3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
प्रतीकात्मक फोटो। - Dainik Bhaskar
प्रतीकात्मक फोटो।

हरियाणा के पलवल में जेल से प्रोडक्शन वारंट पर लाया गया बंदी सब इंस्पेक्टर और दो पुलिसकर्मियों को चकमा देकर फरार हो गया। लूट के मामले में गुरुग्राम से निशानदेही कराने के बाद पुलिस पार्टी उसे वापस पलवल के गदपुरी थाना ला रही थी। पुलिस की तीन टीमें फरार हुए बंदी की तलाश में लगी हैं। फिलहाल उसका कोई सुराग नहीं लगा है।

गदपुरी थाना में तैनात एसआई राजेश कुमार ने बताया कि आरोपी अजय के खिलाफ गदपुरी थाना में मुकदमा नंबर 159 दर्ज है, जिसमें आरोपी ने हथियार के बल पर लूट की थी। उसकी जांच उसके पास है। इस मामले में लीखी गांव निवासी अजय नामक युवक नामजद था। आरोपी लोगों को बंधक बनाकर बिजली के ट्रांसफार्मर चोरी करता था। पुलिस को पता चला की आरोपी किसी अन्य मामले में नीमका जेल मे बंद है।

रिमांड पर गुरुग्राम ले गई थी पुलिस

गदपुरी थाना पुलिस उसे नीमका जेल से पूछताछ के लिए प्रोडक्शन वारंट पर लाई थी। बाद में उसे कोर्ट में पेश करने के बाद एक दिन के पुलिस रिमांड पर ले लिया था। पुलिस टीम अजय को लेकर गुरुग्राम में निशानदेही और माल बरामदगी के लिए गई थी। पुलिस पूरी कार्रवाई करने के बाद उसे निजी गाडी में वापस ला रही थी। गाडी में आरोपी की सुरक्षा के लिए एक सब-इंस्पेक्टर, एक पुलिसकर्मी राजेंद्र व एक एसपीओ तैनात थे।

खिड़की खोल कर हो गया फरार

जांच अधिकारी महिपाल ने बताया कि आरोपी को निजी गाडी से वापस पलवल लाया जा रहा था जैसे धतीर-सिकंदरपुर गांव के रोड़ पर पहुंचे तभी वहां रास्ते में पानी भरा होने के चलते गाड़ी धीरे हुए चल रही थी। इसी का फायदा उठाकर आरोपी गाड़ी की खिड़की खोल कर फरार हो गया।

गाड़ी में मौजूद पुलिस कर्मी तुरंत गाड़ी से उतरे और आरोपी का पीछा शुरू कर दिया, लेकिन आरोपी धतीर गांव की गलियों में पुलिस की आंखों से ओझल हो गया। काफी तलाश करने के बाद भी वह नहीं मिला। पुलिस ने मामले में केस दर्ज कर आरोपी की तलाश के लिए तीन टीमें गठित की है जो आरोपी के ठिकानों पर दबिश दे रही है।