पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ग्राउंड रिपोर्ट:86 दिन बाद कल से खुलेंगे स्कूल, बच्चों को भेजने पर 60% अभिभावकों की ना

रोहतक12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
गांधी नगर के सीनियर सेकंडरी स्कूल में बैंच को सेनिटाइज करते हुए कर्मी। - Dainik Bhaskar
गांधी नगर के सीनियर सेकंडरी स्कूल में बैंच को सेनिटाइज करते हुए कर्मी।
  • स्कूल में एंट्री पर हुए ऑनलाइन सर्वे में अभिभावकों ने रखी अपनी राय

16 जुलाई से जिले के सरकारी स्कूल खुलने जा रहे हैं। 9वीं से 12वीं कक्षा के स्टूडेंट्स के लिए 86 दिन बाद कक्षा के दरवाजे खुलेंगे। लेकिन स्टूडेंट की एंट्री के लिए इस बार विभाग के तय किए फॉर्मेट में अभिभावकों की सहमति जरूरी है।

कितने विद्यार्थी शुक्रवार को स्कूलों में पहुंचेंगे इस बारे में स्कूलों की तरफ से कराए ऑनलाइन सर्वे में सामने आया है कि 60 फीसदी अभिभावक अभी कोरोना के खतरे को देखते हुए अपने बच्चों को स्कूल भेजने के लिए राजी नहीं हैं। जिले के अधिकतर स्कूलों की ओर से शिक्षा विभाग की ओर से सहमति पत्र का फॉर्मेट अभिभावकों के व्हाट्सऐप ग्रुप में भेजकर उनसे राय जानी गई थी।

हर कक्षा के हिसाब से ऑनलाइन सर्वे
स्कूलों की तरफ से अभिभावकों की मंजूरी के लिए हर कक्षा के हिसाब से सर्वे किया जा रहा है। इसमें कक्षाओं के हिसाब से बने व्हाट्सऐप ग्रुप में शिक्षक सहमति पत्र भेजकर अभिभावकों की अनुमति ले रहे हैं। इस सर्वे में मंजूरी देने वाले अभिभावकों के हस्ताक्षर की हुई सहमति पत्र की फोटोकॉपी विद्यार्थी अपने साथ 16 जुलाई को स्कूल लेकर पहुंचेगें। वहीं सहमति न देने वाले अभिभावक ग्रुप में ही अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं।

खबरें और भी हैं...