• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Rohtak
  • Seeing The Deteriorating Situation In The Old City, Supplies Were Left In The Evening Too, Tankers Were Sent To Many Places

जलसंकट:पुराने शहर में हालात बिगड़ते देख शाम को भी छोड़ी सप्लाई, कई जगह भेजे टैंकर

रोहतक2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

नहरबंदी के दौर में पेयजल संकट झेल रहे पुराने शहरवासियों के लिए तीसरा दिन मंगलवार को राहत लेकर आया। जब सुबह और शाम आधे-आधे घंटे जलघर से जुड़े 4 बूस्टरों के जरिए पीने के पानी की आपूर्ति की गई है। एक हफ्ते से पानी की किल्लत से परेशान लोगों ने राहत की सांस ली।

कई इलाकों में विभाग ने पानी के टैंकर भी भेजे। लेकिन बुधवार और आगे के दिनों में पानी की आपूर्ति को लेकर आमजन के बीच असमंजस की स्थिति बनी हुई है। क्योंकि राशनिंग के दौरान भी 24 घंटे में एक बार निश्चित 50 मिनट और 1 घंटा पानी की आपूर्ति में अतिरिक्त 10 मिनट जोड़कर सप्लाई देने का पब्लिक हेल्थ विभाग का दावा हकीकत से दूर है। खासकर पुराने शहर के ऊंचाई वाले मोहल्लों में। यहां के निवासियों की आेर से पब्लिक हेल्थ विभाग के एक्सईएन, एसडीओ, जेई आदि को फोन व अन्य जरिए समस्या बताने के बाद भी पानी की आपूर्ति नहीं की जा रही है।

शहर के इन इलाकों में दो बार सप्लाई छोड़ी
दूसरी ओर मंगलवार को सुबह निश्चित शेड्यूल पर गोहाना अड्डा बूस्टर, पाड़ा मोहल्ला बूस्टर, डेयरी मोहल्ला बूस्टर और जुलाहा चौक बूस्टर से पुराने शहर में पानी की आपूर्ति की गई है। करीब 30 मिनट तक घरों में सप्लाई पहुंची। शाम को दोबारा 5:05 बजे से लेकर शाम 5: 35 बजे तक भी बूस्टर से पानी की सप्लाई दी गई।

खबरें और भी हैं...