आवंटन की उम्मीद:पावर हाउस शॉपिंग कॉम्प्लेक्स में प्रभावितों को 2 लाख/गज रेट पर मिलेंगी दुकानें

रोहतक8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पावर हाउस पर बन रहा शाॅपिंग कॉम्प्लेक्स। - Dainik Bhaskar
पावर हाउस पर बन रहा शाॅपिंग कॉम्प्लेक्स।
  • एसडीएम कमेटी की ओर से प्रपोजल फाइल तैयार
  • डिवीजनल कमिश्नर की मुहर के बाद एलीवेटेड ट्रैक के प्रभावितों को शुरू होगी आवंटित

रेलवे एलीवेटेड ट्रैक से प्रभावित गांधी कैंप के दुकानदारों के लिए पावर हाउस पर निर्माणाधीन दो मंजिला शॉपिंग कॉम्प्लेक्स की दुकानों का रेट तय होने जा रहा है। दुकानदारों को दुकानें आवंटित करने के लिए बनाई एसडीएम की कमेटी ने 2 लाख रुपए प्रति वर्ग गज के रेट से दुकानें आवंटित करने का प्रपोजल तैयार किया है। ये रेट शॉपिंग कॉम्प्लेक्स एरिया के कलेक्टर रेट और मार्केट रेट के बीच का बताया जा रहा है।

प्रपोजल की फाइल एसडीएम की कमेटी की ओर से डिवीजनल कमिश्नर के टेबल पर पहुंच गई है। कमेटी की ओर से भेजी गई रिपोर्ट में कमेटी ने बताया है कि दिल्ली रोड स्थित शॉपिंग कॉम्प्लेक्स की जमीन का कलेक्टर रेट लगभग डेढ़ लाख रुपए प्रति वर्ग गज है। जबकि यहां का वर्तमान मार्केट रेट 3 लाख 70 हजार रुपए है। ऐसे में रेलवे एलीवेटेड से प्रभावित गांधी कैंप दुकानदारों को औसतन 2 लाख रुपए प्रति वर्ग गज के हिसाब से दिए जाने का रेट तय किए जाए।

ये है प्रोजेक्ट: ढाई करोड़ की लागत से बन रहे इस दो मंजिला शॉपिंग कॉम्प्लेक्स में कुल 152 दुकानों का निर्माण कराया जाएगा। दुकानों के सामने 25 फीट का कॉरिडोर बनेगा। शॉपिंग कॉम्प्लेक्स 140 बाई 140 फीट के दायरे में बनना है। करीब एम आकार में बनने वाले इस शॉपिंग कॉम्प्लेक्स में एंट्री दिल्ली रोड से सीधे होगी, ताकि दुकानदारों और वहां पहुंचने वाले ग्राहकों को दिक्कत का सामना न करना पड़े।

छत के साथ दुकानों के आवंटन की मांग

इधर, गांधी कैंप बाजार के जिन दुकानदारों को ये दुकानें मिलनी हैं, वे पावर हाउस चौक पर बिजली निगम की जमीन में बनने वाले इस शॉपिंग कांप्लेक्स में छत सहित दुकानें दिए जाने की मांग पर अड़े हैं। अपनी मांग को लेकर इन दुकानदारों पवन सलूजा, अंकुर सपड़ा, सुंदर लाल, रामधन कुरड़ा, वेद प्रकाश, सचिन, श्याम सुंदर, जगदीश, राजराम, अनिल वीरमानी, जयपाल धींगड़ा, अंकित एवं सुंदर कुरड़ा आदि पूर्व सहकारिता मंत्री मनीष कुमार ग्रोवर, मेयर मनमोहन गोयल व नगर निगम कमिश्नर प्रदीप गोदारा को भी ज्ञापन सौंप चुके हैं।

खबरें और भी हैं...