कोरोना का असर / सैनिक काॅलोनी का सैनिक दिल्ली में संक्रमित पीजीआई सीएमओ की पत्नी व 2 स्वीपर हुए ठीक

Soldier of Sainik Colony, PGI CMO's wife and 2 sweepers infected in Delhi
X
Soldier of Sainik Colony, PGI CMO's wife and 2 sweepers infected in Delhi

  • जिले में 14 मरीज में से 10 हो चुके ठीक, पीजीआई के चारों स्टाफ कर्मी भी जीत चुके जंग

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 06:47 AM IST

रोहतक. जिले में सेक्टर दो और नयाबांस गांव में कोरोना पॉजिटिव केस मिलने के बाद शुक्रवार को सैनिक कॉलाेनी के आर्मी जवान के दिल्ली में कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। दिल्ली प्रशासन ने सिविल सर्जन कार्यालय के अधिकारियों को रिपोर्ट भेज दी है। रिपोर्ट मिलने के बाद दिन मंे सिविल सर्जन कार्यालय की रैपिड रिस्पांस टीम ने सैनिक कॉलाेनी में रह रहे सेना के जवान के परिजनों से ट्रैवल हिस्ट्री में जानकारी की तो पता चला कि कोरोना संक्रमित फौजी करीब छह माह से दिल्ली में रहकर सेवाएं दे रहे हैं। कोविड 19 के जिला नोडल अधिकारी डॉ. सत्यवान ने बताया कि करीब छह माह से जवान सैनिक काॅलाेनी स्थित घर नहीं आया है। इसलिए यह केस दिल्ली का ही माना जाएगा। राहत की बात यह है कि शुक्रवार को कोरोना संक्रमण का कोई नया केस नहीं मिला है। पीजीआई के सीएमओ की पत्नी और पाड़ा मोहल्ला व पुराना बस स्टैंड निवासी दो सफाई कर्मियों की सैंपल रिपोर्ट निगेटिव आने पर तीनों को आइसोलेशन वार्ड से डिस्चार्ज कर घर भेज दिया गया है। अब पीजीआई स्टाफ का कोई भी कर्मचारी कोरोना संक्रमित नहीं बचा है। सांपला में कोरोना संक्रमित मरीज के मिलने के बाद कंटेनमेंट और बफर जोन घोषित एरिया से 50 और जिले भर से 150 लोगों में कोरोना संक्रमण से मिलते-जुलते लक्षण मिलने पर हेल्थ टीम ने उनके सैंपल लेकर टेस्ट के लिए लैब में भेजे हैं।

रोहतक| पीजीआई में सफाई कर्मियों, डाॅक्टर की पत्नी और एंबुलेंस चालक के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद से लगातार पूरे कैंपस में सेनिटाइजेशन का कार्य तेजी से किया जा रहा है। पीजीआई एमएस के निर्देश पर शुक्रवार को पुरानी इमरजेंसी विभाग में बने रजिस्ट्रेशन विंडो, निशुल्क दवा वितरण विंडो सहित पूरे एरिया में सोडियम हाइपोक्लोराइड से सेनिटाइजेशन का काम किया गया। हेल्थ यूनिवर्सिटी के जनसंपर्क अधिकारी डॉ. वरुण अरोड़ा ने बताया कि पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टिट्यूट ऑफ डेंटल साइंसेस के प्रोफेसर डॉ. अमरीश को कोविड-19 के संदिग्ध मरीजों का सैंपल लेने के लिए बनाए गए सी ब्लॉक की सैंपलिंग का इंचार्ज बनाया है। जिन मरीजों का सैंपल सी ब्लॉक में लिया जाएगा, उनकी रिपोर्ट 36 से 48 घंटे बाद आपातकाल विभाग के पास संचालित जन औषधि केंद्र के बगल में बने केबिन में दोपहर दो बजे से शाम चार बजे तक उपलब्ध होगी। सैंपल देने वाला व्यक्ति अपनी रिपोर्ट लेने के लिए सी ब्लॉक में न आए और वो सीधे जन औषधि के केंद्र के पास खोली गई विंडाे से रिपोर्ट हासिल कर सकता है।

ककराना व सांपला का क्षेत्र कंटेनमेंट से मुक्त हुआ, अब सेक्टर -2 व नया बांस का कुछ एरिया कंटेनमेंट में शामिल

जिले के गांव ककराना और सांपला में 28 दिन का कंटेनमेंट आॅपरेशन पूरा होने के दौरान कोई भी संक्रमित व्यक्ति न मिलने पर कंटेनमेंट जोन व बफर जोन को समाप्त कर दिया है। शहर के सेक्टर दो और सांपला के नयाबांस गांव में शुक्रवार को कोरोना संक्रमित मरीज मिलने के बाद डीसी आरएस वर्मा ने कंटेनमेंट जोन व बफर जोन घोषित किया है। आदेशों में कहा गया है कि वार्ड-11 के सेक्टर-2 के दक्षिण में मकान नंबर-1811 से 1803, पूर्व दिशा में मकान नंबर-1812 से उत्तर दिशा में मकान नम्बर-1820, पश्चिम दिशा में मकान नम्बर-1811 तक क्षेत्र को कंटेनमेंट जोन घोषित किया है। जबकि दक्षिण में मकान नम्बर-1784 से 1728, पूर्व में मकान नम्बर-1196 से पूर्व दिशा में मकान संख्या-1214 से 1175 उत्तर दिशा में मकान नम्बर-1846 से 1881, पश्चिम दिशा में मकान संख्या-1184 तक क्षेत्र को बफर जोन घोषित किया है। गांव नया बांस में कोरोना संक्रमित व्यक्ति मिलने पर सांपला-खरखौदा रोड पर स्थित राजकीय उच्च विद्यालय के सामने वाली गली, पूर्व से पश्चिम की तरफ धर्मबीर पुत्र राजबीर के मकान से बल्लू पुत्र कटवा के मकान तक मोबाइल टावर की ओर, पूर्व दिशा में देवराज पुत्र किरोड़ीमल के मकान तक क्षेत्र को कंटेनमेंट क्षेत्र घोषित किया है। नया बांस गांव की प्रशासनिक सीमा को बफर जोन घोषित किया गया है। कंटेनमेंट जोन व बफर जोन में नया बांस ग्राम पंचायत द्वारा सम्पूर्ण क्षेत्र को सेनिटाइज करवाया जाएगा। प्रशासन इसमें पूरी मदद करेगा।

जिले के 123 लोगाें की रिपोर्ट आई निगेटिव: हेल्थ यूनिवर्सिटी के जनसंपर्क अधिकारी डाॅ. वरुण अरोड़ा ने बताया कि शुक्रवार को पीजीआई में विभिन्न जिलों से आए 305 लोगों के सैंपल की लैब में जांच की गई। गुरुग्राम के पांच केस पॉजिटिव हंै। रोहतक के 123 लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई है।

14 में से अब केवल 4 संक्रमित बचे, बाकी ठीक होकर जा चुके घर: रोहतक जिले में कुल 14 काेरोना संक्रमित केस हैं। इनमें से 10 ठीक होकर अपने घर जा चुके हैं। अब केवल चार लोगों का ही पीजीआई में उपचार चल रहा है। इनमें से सूरत से लौटा व्यापारी का बेटा, सेक्टर 2 की कैंसर पीड़ित महिला, जनता कॉलोनी की एएनएम और नया बांस का दिल्ली में कार्यरत फायर ब्रिगेड का कर्मचारी शामिल हैं। पीजीआई स्टाफ की रिपोर्ट भी निगेटिव आई है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना