खरावड़ में पहुंचे टिकैत:महम के गांव किशनगढ़ और भैणी सुरजन में पहुंचे भाकियू के प्रदेश अध्यक्ष

रोहतकएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आंदाेलन में रोहतक के लोगों का बढ़ा योगदान रहा (राेहतक.खरावड़ में पहुंचे किसान नेता गुरनाम सिंह चढूनी का फूलाें से स्वागत करते हुए किसान।) - Dainik Bhaskar
आंदाेलन में रोहतक के लोगों का बढ़ा योगदान रहा (राेहतक.खरावड़ में पहुंचे किसान नेता गुरनाम सिंह चढूनी का फूलाें से स्वागत करते हुए किसान।)

किसान आंदोलन के समर्थन में खरावड़ गांव स्थित भंडारे का मंगलवार को समापन हुआ है। यहां पर किसान आंदोलन के समर्थन में धरने स्थल पर रहने वाले किसानों का सम्मान समारोह आयोजित किया गया। इस दौरान रागिनी का कार्यक्रम भी किया गया। कार्यक्रम में किसान नेता राकेश टिकैत, गुरुनाम सिंह चढुनी, महम विधायक बलराज कुंडू ने शिरकत की। वहीं किसान नेता राकेश टिकैत ने कहा कि खरावड़ गांव की ओर से किसान आंदोलन में जाने वाले किसानों के लिए 380 दिन लगातार भंडारे का आयोजन किया गया है। इसके अलावा रोहतक के लोगों ने किसान आंदोलन में बढ़ा योगदान दिया। इस आंदोलन में किसानों ने अपनी जीत हासिल करने के साथ- साथ भविष्य में अपनी मांगों को शांति पूर्वक मनवाने की ट्रेनिंग भी ली है। वहीं किसान नेता गुरुनाम सिंह चढूनी ने कहा कि आंदाेलन की मजबूती काे धार यहां के भाईचारे से मिली है।

महम. भारतीय किसान यूनियन के प्रदेश अध्यक्ष गुरनाम सिंह चढूनी मंगलवार को महम के गांव किशनगढ़ व भैणी सुरजन पहुंचे। उन्होंने कहा कि किसानों की मुख्य मांग एमएसपी की गारंटी लागू करने वाली है। इस मांग को सरकार ने अभी तक पूरा नहीं किया है। उन्होंने कहा कि किसान आंदोलन समाप्त नहीं हुआ है। बल्कि इसे स्थगित किया गया है। ये कभी भी दोबारा खड़ा हो सकता है।

भाकियू अध्यक्ष ने कहा कि 15 लाख करोड़ का कारोबार दो कंपनियों के हवाले कर दिया गया। इन कार्पोरेट घरानों ने 15 लाख करोड़ रुपए डकार लिए। देश के किसानों पर लगभग 8 लाख करोड़ रुपए का कर्ज है। इसके कारण 4 लाख किसान आत्महत्या कर चुके हैं। इस दौरान महम चौबीसी सर्वखाप पंचायत के प्रधान मेहर सिंह नंबरदार, रामफल राठी, महावीर गोयत, हुकुम सिंह सैमाण, सोमबीर गोयत, बलवान सैमाण, एडवोकेट पवन मलिक, सोमबीर गोयत, प्रदीप गोयत, राजपाल अहलावत, जसवंत, मास्टर सुरेंद्र ग्रेवाल, रणधीर, तस्वीर, जग्गू मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...