पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

ऑनलाइन पेपर में दिक्कतें:विद्यार्थी बोले-एमडीयू के हेल्पडेस्क से भी नहीं मिल रही मदद, किया विरोध प्रदर्शन, गिनवाईं शिकायतें

रोहतकएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
एमडीयू परीक्षा सदन के बाहर प्रदर्शन करते हुए स्टूडेंट्स।
  • नहीं मिला पिन नंबर, मॉक टेस्ट में नहीं बताया जूम इन-जूम आउट विकल्प

एमडीयू की ओर से 17 अक्टूबर से शुरू हुई अंतिम वर्ष की परीक्षाओं में समस्याएं खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। इन परीक्षाओं में ऑनलाइन विकल्प चुनने वाले स्टूडेंट्स को कुछ ज्यादा ही परेशानी झेलनी पड़ रही है। स्टूडेंट्स का कहना है कि उनके पास पिन नंबर नहीं पहुंच पा रहा है। साथ ही कई स्टूडेंट्स की शिकायत है कि उनके पास परीक्षा शुरू होने के बाद पिन नंबर पहुंचा तो कुछ का कहना है कि मॉक टेस्ट में जूम इन और जूम आउट का कोई विकल्प नहीं बताया गया था।

अब जब परीक्षा देते हैं तो प्रश्न को पढ़ने के लिए जूम इन जूम आउट करना होता है, तभी सवाल गायब हो जाता है। इतना ही स्टूडेंट्स का कहना है कि जब कंट्रोल रूम में हेल्पलाइन पर फोन करते हैं तो कोई जवाब नहीं दिया जाता, पलट कर ईमेल का भी जवाब नहीं आता। इससे भी दिक्कत बढ़ रही है। इन सभी समस्याओं को लेकर स्टूडेंट्स ने मंगलवार को एमडीयू के परीक्षा सदन के सामने प्रदर्शन किया।

एबीवीपी ने एमडीयू परीक्षा सदन के बाहर किया प्रदर्शन और मुख्य द्वार पर ताला जड़ दिया। छात्र नेता दीपक धनखड़ ने बताया कि यूनिवर्सिटी की ओर से विद्यार्थियों को समय पर एग्जाम पिन उपलब्ध नहीं कराया। जब विद्यार्थियों ने एमडीयू के हेल्प डेस्क पर अपनी समस्या बताई तो विद्यार्थियों को कोई मदद नहीं मिली। छात्राें ने प्रथम और द्वितीय वर्ष की रिअपीयर की परीक्षाओं को जल्द से जल्द करने की मांग की। परीक्षा नियंत्रक डॉ. बीएस सिंधु को इस पर डॉ. सिंधु ने आश्वासन दिया कि एक नवम्बर से पहले परीक्षा आयोजित कराई जाएगी।

95% परीक्षार्थियों को कोई समस्या नहीं आ रही
जिन बच्चों ने गलत ईमेल आईडी दी है, उन्हें ही पिन नंबर पहुंचने में दिक्कत आ रही है। परीक्षा में 95 फीसदी बच्चे बैठ रहे हैं, उन्हें दिक्कत नहीं आ रही। सिर्फ कुछ बच्चों की ओर से ही सवाल उठाए जा रहे हैं। सिर्फ ईमेल पर ही नहीं बच्चों के पंजीकृत मोबाइल फोन नंबर पर भी पिन नंबर भेजा जाता है। -डॉ. बीएस सिंधु, परीक्षा नियंत्रक, एमडीयू।

विद्यार्थियों ने ये उठाईं मांगें

  • मॉक टेस्ट में जूम इन जूम आउट का विकल्प दिया जाए।
  • जिन भी विद्यार्थियों को दिक्कत हुई उनकी परीक्षा दोबारा कराई जाए।
  • ऑनलाइन परीक्षा हेल्प डेस्क की ईमेल पर 12 घण्टे के अंदर विद्यार्थियों को उनके मेल का रिप्लाई आना चाहिए।
  • प्रथम और द्वितीय वर्ष के रि-अपीयर के विद्यार्थियों की परीक्षा जल्द कराई जाए।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- यह समय विवेक और चतुराई से काम लेने का है। आपके पिछले कुछ समय से रुके हुए व अटके हुए काम पूरे होंगे। संतान के करियर और शिक्षा से संबंधित किसी समस्या का भी समाधान निकलेगा। अगर कोई वाहन खरीदने क...

और पढ़ें