• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Rohtak
  • In Delhi, After Doing This Heinous Act, The Rapist Was Escaping To Rajasthan In A Bus, Central District Police Caught Him In Kalanaur, Rohtak On The Basis Of Location.

छह साल की बच्ची से दुष्कर्म का आरोपी गिरफ्तार:बस में भाग रहा था राजस्थान, मोबाइल लोकेशन के आधार पर पुलिस ने कलानौर में पकड़ा

रोहतक3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

मध्य दिल्ली के रणजीत नगर इलाके में 6 साल की बच्ची से दुष्कर्म करने के आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। उसे हरियाणा में रोहतक जिले के कलानौर से पकड़ा गया। आरोपी का नाम सूरज है और उसकी उम्र 20 साल है। शुक्रवार सुबह बच्ची से रेप के बाद आरोपी निजी बस में बैठकर राजस्थान के लिए निकला मगर पुलिस ने मोबाइल फोन की लोकेशन के आधार पर बस का पीछा कर उसे कलानौर के पास दबोच लिया।

पुलिस ने वारदात के 36 घंटे के अंदर गिरफ्तार कर लिया।

दस रुपए का नोट देकर ले गया बच्ची को साथ

पुलिस के अनुसार, आरोपी सूरज ने शुक्रवार यानि 22 अक्टूबर की सुबह साढे नौ बजे एक बच्ची को गुरुद्वारे के बाहर खेलते देखा। उसने कॉपी दिलाने के बहाने बच्ची काे पास बुलाया और 10 रुपये देकर उसे अपने साथ तकरीबन 30 मीटर दूर एक फैक्ट्री में ले गया। वहां पहली मंजिल पर उसने बच्ची से दुष्कर्म किया और जब बच्ची रोने लगी तो आरोपी वहां से भागकर रणजीत नगर में रहने वाले अपने मामा के घर चला गया।

बच्ची को लगे कई टांके

खून से लथपथ बच्ची किसी तरह अपने घर पहुंची और मां को आपबीती सुनाई परिवार तुरंत बच्ची को कस्तूरबा भाई पटेल अस्पताल ले गया। वहां के डॉक्टरों ने पुलिस को सूचित कर बच्ची को एम्बुलेंस से राम मनोहर लोहिया अस्पताल भेज दिया। राम मनोहर लोहिया अस्पताल में डॉक्टरों ने उसी दिन बच्ची का ऑपरेशन कर दिया। उसे कई टांके आए। इस समय बच्ची की हालत खतरे से बाहर है।

पहले भी कर चुका एक बच्ची से दुष्कर्म का प्रयास

पीड़ित बच्ची के पिता मध्य दिल्ली के रणजीत नगर इलाके में ही अपने परिवार के साथ रहता है और रिक्शा चलाकर गुजारा करता है। उसकी पत्नी घरों में साफ-सफाई करती है। शुक्रवार सुबह बच्ची लंगर खाने के लिए गुरुद्वारे गई थी। उसी समय आरोपी बहला-फुसलाकर उसे अपने साथ ले गया। दिल्ली पुलिस के एक अधिकारी के मुताबिक 20 साल सूरज, रघुबीर नगर का रहने वाला है और अविवाहित है। राजस्थान में बर्तनों की फेरी लगाने वाला सूरज महिलाओं के मामले में सनकी किस्म का है। अप्रैल 2021 में भी उसने ख्याला में एक बच्ची के साथ दुष्कर्म करने का प्रयास किया था।

कोरोना पैरोल पर आया बाहर

अप्रैल 2021 में बच्ची से दुष्कर्म के प्रयास में पकड़े गए सूरज के खिलाफ पुलिस ने ख्याला थाने में पॉक्सो एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर उसे जेल भेज दिया। कोराना की दूसरी लहर के दौरान जेल में संक्रमण फैलने की आशंका के बाद दिल्ली हाईकोर्ट के निर्देश पर वह जेल से जमानत पर बाहर आ गया। शुक्रवार को सूरज उसी केस की तारीख पर तीस हजारी कोर्ट में आया था। इसके बाद वह रणजीत नगर में रहने वाले अपने मामा के पास चला गया।