सात दिवसीय प्रदर्शनी की यूनिवर्सिटी में तैयारी जोरों पर:सुपवा में प्रदर्शनी रचनात्मक विचार की अभिव्यक्ति थीम पर 31 से लगेगी

राेहतकएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

पंडित लख्मीचंद स्टेट यूनिवर्सिटी ऑफ परफार्मेंस एंड विजुअल आर्ट की ओर से विजुअल आर्ट गैलरी में सात दिवसीय कला प्रदर्शन का आयोजन किया जा रहा है। प्रदर्शनी 31 मई से शुरू होकर 6 जून तक चलेगी। प्रदर्शनी की थीम रचनात्मक विचार की अभिव्यक्ति रहेगी। इसमें 350 स्टूडेंट्स पढ़ाई के दौरान किए गए आर्ट वर्क को प्रदर्शित करेंगे। इसमें पेंटिंग, ऐक्रेलिक पेंटिंग, ऑइल पेंटिंग, म्यूरल पेंटिंग, स्प्रे पेंटिंग, स्कैच, क्ले आर्ट, पोर्ट्रेट्स, बेस्ट फ्रॉम वेस्ट शामिल हैं। विभागाध्यक्ष विनय कुमार ने बताया कि कोरोना महामारी के चलते दो साल बाद यह प्रदर्शनी लगाई जा रही है। एग्जीबिशन में अलग अलग शहर से कलाकार आएंगे।

पेंटिंग सीरिज में बेटी के जन्म की खुशी से लेकर बड़े होने पर उसकी सुरक्षा को लेकर मां की चिंता को दिखाएंगे
प्रिंट आर्ट में नारी के प्रेम, ममता और चिंता को दिखाया जाएगा। पेंटिग की एक सीरीज तैयार की जा रही है। इसमें बेटी की एक गिलहरी से तुलना की गई है। जैसे गिलहरी सबसे डर डर के रहती है वैसे ही बेटी को भी डर के रहना पड़ता है। पेंटिंग में बेटी के जन्म से लेकर उसके बड़े होने तक का सफर बताया गया है कि कैसे एक मां अपनी बेटी के जन्म पर खुश होती है लेकिन जैसे जैसे बेटी बड़ी होती जाती है वैसे ही बेटी की सुरक्षा को लेकर मां की चिंता बढ़ जाती है। ऐसे ही कैनवास पेंटिंग के जरिए नवविवाहित जोड़े की जीवन यात्रा को दर्शाया गया है कि कैसे एक लड़की अपनी शादी के बाद की जिन्दगी के सपने लेती है कि उसकी आगे की जिंदगी कैसी रहेगी।

खबरें और भी हैं...