पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Rohtak
  • The Government Imposed An Administrator On The Vaishya Institution 5 Days Before The High Court Hearing On The Election

वैश्य शिक्षण संस्था:चुनाव कराने पर हाईकोर्ट में सुनवाई से 5 दिन पहले सरकार ने वैश्य संस्था पर लगाया प्रशासक

रोहतक13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • प्रधान व महासचिव लड़ते रहे, वैश्य समाज के हाथ से चली गई संस्था की बागडोर
  • प्रधान ने लगाया आरोप- भाजपा के कुछ नेताओं ने साजिश के तहत प्रशासक बैठाया, हमारी कार्यकारिणी को देनी चाहिए थी तीन माह की एक्सटेंशन
  • डीसी ने डेढ़ माह पहले ही कर दी थी संस्था पर प्रशासक बैठाने की तैयारी, अब एक साल या चुनाव होने तक निगम कमिश्नर प्रदीप गोदारा की रहेगी नियुक्ति

वैश्य शिक्षण संस्था में चुनाव अधिकारी लगाने के मुद्दे को लेकर प्रधान गुट हाईकोर्ट में है। अभी 5 अगस्त को सुनवाई होनी है, लेकिन इससे पहले ही सरकार की ओर से संस्था पर प्रशासक नियुक्त कर दिया गया। नगर निगम के आयुक्त प्रदीप गोदारा अब संस्था का जिम्मा संभालेंगे। उद्योग एवं वाणिज्य विभाग के प्रधान सचिव की ओर से यह आदेश जारी किया है। उनकी ओर से यह नियुक्ति एक साल के लिए की गई है। हालांकि इससे पहले चुनाव हो जाते हैं तो आयुक्त की जिम्मेदारी खत्म हो जाएगी।

संस्था में रोजमर्रा के काम प्रभावित न हो इसीलिए यह फैसला लिया गया है। वहीं संस्था के प्रधान विकास गोयल का कहना है कि सरकार इस मामले में अग्रवाल समाज के साथ धोखाधड़ी कर रही है। इस पूरे मामले में कुछ भाजपा नेता शुरू से ही प्रशासक बिठाने की तैयारी में थे।

इस बारे में हमने पहले ही बता दिया था यह संस्था को बर्बाद करना चाहते हैं। वहीं महासचिव डॉ. चंद्र गर्ग ने कहा कि प्रधान गुट अपने कुछ फर्जी वोट को जुड़वाना चाहता था, यह गलत काम हमें मंजूर नहीं था। इनकी इसी मंशा को देखते हुए सरकार को प्रशासक लगाना पड़ा। फिर कोर्ट में भी चले गए, वहां काम खराब होता देखकर अब प्रशासक का काम करवा दिया। चुनाव तो महासचिव ही करवाता है।

वैश्य शिक्षण संस्था में हैं 25 हजार सदस्य
वैश्य शिक्षण संस्था में 25 हजार आजीवन सदस्य हैं, लेकिन इनमें से सक्रिय सदस्य करीब 16 हजार हैं, जिन्हें वोट डालने का अधिकार है। इसके अलावा 105 कॉलेजियम वाली इस संस्था में 47 कॉलेजियम ही रोहतक से जुड़े हुए हैं, बाकी के 58 कॉलेजियम हरियाणा के अन्य जिलों व दिल्ली-गाजियाबाद में हैं। ऐसे में चुनाव प्रक्रिया होने पर हरेक कॉलेजियम की व्यवस्था व उनके हाॅट स्पॉट से रोहतक में आने पर कोरोना का संक्रमण बड़ा खतरा बन सकता था। इसका हवाला स्वयं आजीवन सदस्यों ने अपने पत्राें में किया था।

संस्था के लिए अलग नियम पर उठाए सवाल: प्रधान विकास गोयल ने सरकार की ओर से संस्था पर प्रशासक लगाने के मामले पर सवाल उठाए हैं। उनका कहना है कि स्टेट रजिस्ट्रार केे स्तर पर लॉकडाउन के दौरान प्रदेश की जिन संस्थाओं के चुनाव लंबित थे उन्हें एडहॉक कमेटी बनाकर 3 महीने की एक्सटेंशन देने का नोटिफिकेशन जारी किया गया था, लेकिन इसकी पालना सिर्फ वैश्य समाज के लिए नहीं की गई। जोकि सरकार की नीयत पर सवाल उठाता है। सोसायटियों में एडहॉक कमेटी का मकसद संस्थाओं में लॉकडाउन के अटके जरूरी कार्य करवाना था।

प्रशासक लगाना गलत : प्रधान
वैश्य शिक्षण संस्था के प्रधान विकास गोयल का कहना है कि संस्था में सच्चाई हार गई और झूठ-फरेब जीत गया। हमारे 3 साल के कार्यकाल में कितने काम किए गए हैं जो नहीं हुए थे। वहीं जब पूरा मामला हाईकोर्ट में विचाराधीन है तो ऐसे में सरकार की ओर से प्रशासक लगाना सही नहीं है, कोर्ट की अवहेलना की गई है।

प्रधान की कार्यशैली से लगा प्रशासक
संस्था के महासचिव डॉ. चंद्र गर्ग ने कहा कि प्रशासक लगवाने की पूरी वजह प्रधान गुट ही रहा है। उनकी ओर से चुनाव प्रक्रिया में लगातार बाधा डाली गई। हमारी ओर से तो चुनाव की प्रक्रिया पूरी करवाई जा रही थी। काफी हद तक प्रक्रिया शेड्यूल के मुताबिक चली भी, लेकिन प्रधान गुट अपने कुछ फर्जी वोट को जुड़वाना चाहता था।

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- मेष राशि के लिए ग्रह गोचर बेहतरीन परिस्थितियां तैयार कर रहा है। आप अपने अंदर अद्भुत ऊर्जा व आत्मविश्वास महसूस करेंगे। तथा आपकी कार्य क्षमता में भी इजाफा होगा। युवा वर्ग को भी कोई मन मुताबिक क...

और पढ़ें