पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सुखबीर उर्फ राजा मर्डर केस:राजा को घर के बाहर से बुला ले गया था सुखबीर, भाई और चाचा के साथ मिल की थी हत्या

रोहतक24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
सुखबीर हत्याकांड के आरोपी पुलिस गिरफ्त में। - Dainik Bhaskar
सुखबीर हत्याकांड के आरोपी पुलिस गिरफ्त में।
  • दोस्त ने भी दिया साथ
  • माजरा गांव में पांच आरोपियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार, खुलासा

गांव माजरा के सुखबीर उर्फ राजा मर्डर केस में खुलासा हो गया है। पुलिस ने हत्या के आरोप में 5 लाेगों को गिरफ्तार किया है। इनसे पूछताछ में खुलासा हुआ है कि राजा की हत्या लड़ाई झगड़े के एक पुराने केस में राजीनामा न करने पर की गई है।

गिरफ्तार हुए आरोपियों में दो सगे भाई सुखबीर उर्फ वकील, सूरज उर्फ लीलू, इनका पिता सुरेन्द्र, चाचा राकेश उर्फ लाखा व भालौठ का नवीन उर्फ कांचा शामिल हैं। इन सब की गिरफ्तारी सीआईए टू और थाना आईएमटी की संयुक्त टीम ने की है।

पुलिस आरोपियों को सोमवार को अदालत में पेश कर रिमांड पर लेगी। पुलिस जांच में सामने आया कि कई साल पहले आरोपियों ने मिलकर सुखबीर उर्फ राजा पर घर में घुसकर फरसे से हमला किया था। जिस मामले में आरोपियों के खिलाफ आईएमटी थाना में केस दर्ज है।

उक्त मामले में राजीनामा करने के लिए आरोपी पक्ष सुखबीर उर्फ राजा व उसके परिवार पर दबाव बना रहे थे। सुखबीर उर्फ राजा के परिवार ने राजीनामा करने से मना किया तो आरोपियों ने हत्या की वारदात को अंजाम दिया है।

एएसपी कृष्ण कुमार ने बताया कि शनिवार को हुई राजा की हत्या मामले में परिजनों ने आरोपियों पर शक जताया था। जांच के दौरान ये बात सामने आई कि आरोपी सुखबीर उर्फ वकील ही राजा को शनिवार की सुबह उसके घर के बाहर से उसे बुलाकर ले गया था। गांव के ही कुछ लोगों ने दोनों को गली में एक साथ जाते हुए देखा था।

बाद में शाम को राजा का शव गांव के बाहरी हिस्से के एक प्लाट में झाड़ियों में पड़ा मिला। उसके शरीर पर तेजधार हथियार के वार के कई निशान थे। इसके बाद सीआईए टू प्रभारी नरेश राठी और थाना आईएमटी प्रभारी कुलदीप सिंह के नेतृत्व में संयुक्त टीम ने अलग-अलग जगह दबिश देकर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।

जमीनी विवाद में की थी हिमंत की हत्या, आरोपी काबू

सीआईए-1 की टीम ने बहु-अकबरपुर निवासी हिमंत उर्फ नीटू की हत्या के मामले में पीयूष को गिरफ्तार किया है। पुलिस आरोपी को सोमवार को अदालत में पेश करेगी। हिमंत व पीयूष उर्फ डिम्पी चचेरे भाई है।

जमीनी विवाद में हत्या की थी। डीएसपी हेड क्वार्टर गोरखपाल राणा ने बताया कि हिमंत खेतीबाड़ी करता था। शनिवार को हिमंत बाइक से पानी लेने खेतों की ओर गया था। शाम करीब 6.30 बजे रामफूल को सूचना मिली की हिमंत के साथ खेतों मे मारपीट की गई। रामफूल खेत मे पहुंचा तो हिमंत खून से लथपथ पड़ा था।

खबरें और भी हैं...