पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

स्वच्छता सर्वेक्षण 2021 लॉन्च:स्वच्छता सर्वेक्षण इस बार तीन चरणों में होगा, 30 प्रतिशत अंक जनता करेगी तय

रोहतकएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • मिलेंगे 6 हजार अंक, बेहतर प्रदर्शन करने वाले शहर को प्रेरक दौड़ सम्मान मिलेगा

सरकार ने 2020 के बाद अब स्वच्छता सर्वेक्षण 2021 की शुरुआत कर दी है। यह सर्वेक्षण हर बार की तरह 6000 अंक में होगा, लेकिन इस बार इसमें काफी कुछ नया होगा। इस बार बेहतर प्रदर्शन करने वाले शहर को प्रेरक दौड़ सम्मान के रूप में नवाजा जाएगा। अलग-अलग कैटेगरी के हिसाब से सम्मान मिलेगा। सिटीजन फीडबैक के जरिए फिर से लोगों के पास शहर में सफाई व्यवस्था की सच्चाई सामने लाने का मौका होगा।

स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 की स्टार रेटिंग के नए पैरामीटर तय हुए हैं। इसकी टूल-किट से संबंधित पत्र नगर निगम कार्यालय में पहुंच गया है। इसके मुताबिक स्वच्छ सर्वेक्षण के अनुसार नए आयामों के साथ इस स्वच्छता की दौड़ 6 हजार अंकों की होगी। इस बार नए आयाम में स्वच्छता की होगी कैटेगिरी, मिलेगा प्रेरक दौड़ सम्मान से नवाजा जाएगा। सबसे बेस्ट (प्लैटिनम) सम्मान होगा।

2021 में भी नागरिक फीडबैक अहम होगा। इसमें नागरिक आवाज मतलब जनता की भागीदारी के 30 फीसदी अंक होंगे। परिषद प्रशासन ने स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 की शुरुआत की जानकारी मिलने पर अपने स्तर पर प्लानिंग शुरू कर दी है।

2021 में खतरनाक कचरा निपटान जरूरी : प्लास्टिक रोकने के रिकॉर्ड की बजाय आमजन के फीडबैक को माना जाएगा। बगीचा, दुकानदारों, होटल, गेस्ट हाउस, धर्मशाला से, एजुकेशन इंस्टीट्यूट, सरकारी या प्राइवेट ऑफिस आदि से जुड़े लोगों से फीडबैक लिया जाएगा। वहीं इस बार खतरनाक निपटान जरूरी है जो आमजन के लिए काफी खतरनाक है।

स्वच्छ सर्वेक्षण 2019 में रोहतक की स्थिति : वर्ष 2019 के स्वच्छ सर्वेक्षण के दौरान 6000 अंकों में से रोहतक को शहरी स्थानीय निकाय स्तर पर 3062.76 अंक मिले थे। जबकि राष्ट्रीय स्तर पर 1846 अंक रहे। रोहतक ने राष्ट्रीय स्तर पर 20 रैंक सुधार करते हुए देशभर में 69वां स्थान हासिल किया था। हरियाणा में रोहतक लगातार दूसरे साल दूसरे नंबर पर रहा। जनता को सुविधाएं देने (सर्विस लेवल प्रोग्रेस) और सर्टिफिकेशन में औसत अंक मिले थे। डायरेक्ट ऑब्जरवेशन और सिटीजन फीडबैक के दम पर रोहतक ने दमदार रैंक बनाई थी

डोर-टू-डोर उठेगा कूड़ा : सभी वार्ड के मोहल्लों व कॉलोनियों से डोर तो डोर कूड़ा उठाया जाएगा। आमजन से कूड़ा उठाने का चार्ज वसूला जाएगा। कूड़ा फैलाने वाले पर जुर्माना लगाया जाएगा। अगर किसी गली में कूड़े संबंधित समस्या है तो वह स्वच्छता मैप के माध्यम से शिकायत नपा को कर सकता है।

ये होगा सर्वेक्षण में

  • नए सर्वेक्षण में गीला-सूखा कचरा अलग अलग करने पर नजर रखी जाएगी।
  • शहर में गीले कचरे के खिलाफ अभियान चलाया जाएगा।
  • शहरों की स्वच्छता स्थिति।
  • इस बार 4 की जगह 3 क्वार्टर में चलेगी प्रतिस्पर्धाl
  • 6 हजार अंकों का होगा सर्वेक्षण।
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव- धार्मिक संस्थाओं में सेवा संबंधी कार्यों में आपका महत्वपूर्ण योगदान रहेगा। कहीं से मन मुताबिक पेमेंट आने से राहत महसूस होगी। सामाजिक दायरा बढ़ेगा और कई प्रकार की गतिविधियों में आज व्यस्तता बनी...

और पढ़ें