कल किसानों का रेल रोको अभियान:लखीमपुर हिंसा में मांगों को लेकर करेंगे प्रदर्शन, सुबह 10 से शाम 4 बजे तक कई रूट होंगे प्रभावित

रोहतक7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
सांकेतिक फोटो। - Dainik Bhaskar
सांकेतिक फोटो।

लखीमपुर खीरी में किसानों को गाड़ी से कुचलने के विरोध में संयुक्त किसान मोर्चा के आह्वान पर 18 अक्टूबर को रेल रोको अभियान चलाया जाएगा। इस दौरान देशभर में रेल रूट को जाम किया जाएगा। करीब 10 दिन पहले ही टिकरी बॉर्डर पर चल रहे धरने में संयुक्त किसान मोर्चा की ओर से इस पर फैसला लिया गया।

इस दौरान रेलमार्ग जाम करने को लेकर रणनीति तैयार की गई। ज्यादा से ज्यादा किसानों से रेल रोको कार्यक्रम में हिस्सा लेने का आह्वान किया गया। कार्यक्रम के तहत सोमवार सुबह 10 बजे से शाम 4 बजे तक ट्रेन सेवा बाधित रहेगी। इस दौरान रास्ते में फंसे यात्रियों को लंगर लगाकर हलवा-पूरी और आलू-छोले का लंगर लगाया जाएगा।

लखीमपुर खीरी में हुई घटना से नाराज किसान संगठनों ने एक बार फिर अपने आंदोलन को तेज कर दिया है। इस घटना के सिलसिले में हत्या का मुकदमा दर्ज करके यूपी पुलिस ने गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा की गिरफ्तारी भले ही कर ली हो, लेकिन किसान संगठनों ने साफ कर दिया है कि जब तक मंत्री को पद से नहीं हटाया जाएगा या वो खुद इस्तीफा नहीं देंगे, तब तक वे अपने तय कार्यक्रम के मुताबिक आगे बढ़ते रहेंगे। उन्होंने अजय मिश्रा को भी गिरफ्तार किए जाने की मांग की ।

नॉर्दर्न रेलवे के इलाकों में पड़ेगा असर
संयुक्त किसान मोर्चा ने 18 अक्टूबर को देशभर में सुबह 10 बजे से शाम 4 बजे तक रेल रोको अभियान आयोजित करने की घोषणा की है। इसके चलते रेल यात्रियों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। खासकर, नॉर्दर्न रेलवे के इलाकों में इसका खासा असर देखने को मिल सकता है, जहां शुरू से किसान आंदोलन के चलते रेल यातायात पर काफी असर पड़ता रहा है।

कल है वर्किंग डे, लोगों की बढ़ेगी दिक्कत
अगर 18 अक्टूबर रेल रोको कार्यक्रम जारी रहा तो फिर दिल्ली से हरियाणा, पंजाब और जम्मू के अलावा यूपी के रूट पर भी यात्री ट्रेनों के परिचालन पर खासा असर पड़ सकता है। चूंकि 18 तारीख को सोमवार है, जोकि एक वर्किंग डे होगा। ऐसे में ट्रेन से आवाजाही करने वालों को अपने यात्रा कार्यक्रमों में कुछ बदलाव करना पड़ सकता है। इसके अलावा दैनिक रेल यात्रियों को भी दिक्कत होगी।

रोहतक में 12 जगह ट्रेन रोकने का प्लान
रोहतक मकड़ौली टोल पर धरने की अध्यक्षता कर रहे राजू मकड़ौली ने बताया कि रोहतक में 12 जगह पर ट्रेन रोकने का कार्यक्रम है। इसमें रोहतक रेलवे स्टेशन, अस्थल बोहर, खरावड़, इस्माइला, सांपला, लाहली, कलानौर, समरगोपालपुर, खरेंटी, लाखनमाजरा, मकड़ौली और जसिया शामिल हैं। इन सभी जगह पर जिले में विभन्न जगहों पर धरने पर बैठे किसान रेल रोको अभियान को सफल बनाएंगे।

3 ASP, 14 SHO सहित 500 पुलिसकर्मी संभालेंगे मोर्चा
रोहतक में कार्यक्रम की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने भी अपनी कमर कस ली है। सभी 12 जगहों पर तीन SP, 14 SHO सहित 500 पुलिसकर्मी सुरक्षा मोर्चा संभालेंगे। इसके अलावा पुलिस लाइन में पुलिस की 2 टुकड़ियां रिजर्व रखी गई है, जोकि आपातकालीन स्थिति में व्यवस्था संभालने के काम लाई जाएगी।

खबरें और भी हैं...