पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

बूथ अलॉट न होने का मामला:फड़ी वालों का दर्द, बोले- 8 साल बाद भी नहीं मिला ठिकाना

रोहतक6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
फड़ी लगाने वाले दुकानदार विरोध जताते हुए।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल के हाथों 4 अप्रैल 2017 में उद्घाटन होने के बावजूद अभी तक शहीद भगत सिंह कॉम्प्लेक्स और पार्किंग बेकार हालत में पड़ी हुई है। इस मौके पर खुद सीएम ने इसके व्यवस्थित संचालन का दावा ठोका था। लेकिन नगर निगम के अधिकारियों की लापरवाही के चलते अभी तक शहीद भगत सिंह कांप्लेक्स उजाड़ पड़ा हुआ है।

जबकि नगर निगम की सामान्य बैठक में यह मुद्दा उठने के बाद लगभग सवा करोड़ की सालाना आय की कार्य योजना तैयार करके तत्कालीन डीसी को सौंपी गई थी। लेकिन आज तक उस पर अमल नहीं किया गया। इस कांप्लेक्स में 14 फड़ी लगाने वाले दुकानदारों को बूथ भी दिए जाने हैं, जिनसे गत वर्ष 2012 में यह कहते हुए जगह ली गई थी कि पार्किंग-कांप्लेक्स बनने के साथ ही वे अपनी दुकान की चाबी लेकर घर जाएंगे।

फड़ वालों ने की मीटिंग, तय हुआ शीर्ष अधिकारियों से मिलेंगे

सभी फड़ी दुकानदार अतुल गावरी, जग्गी, सुशील, रणधीर, तिलकराज, अशोक कुमार, रूप लाल, राधेश्याम, दिलबाग सिंह, मनीष, किरोड़ीमल, राजेश, जय नारायण व नंदलाल बुधवार को भगत सिंह पार्किंग कांप्लेक्स में दोपहर 12 बजे एकत्रित हुए। उन्होंने विचार-विमर्श के दौरान बताया कि फड़ी लगाने की जगह छीन लेने के बाद से वे बिना रोजगार भटक रहे हैं। जैसे तैसे परिवार का गुजारा हो रहा है।

पूर्व मंत्री व अधिकारियों से मिलकर कराएंगे समस्या का समाधान

मामले में व्यापारी नेता राजेश लूंबा टीनू ने बताया कि भगत सिंह पार्किंग की जगह पर पुरानी फुटकर सब्जी मंडी लगती थी। पार्किंग बनाने के लिए उनकी जगह नगर निगम ने ली थी। उनको आश्वासन भी दिया गया था कि उनको दुकान लगाने के लिए जगह दी जाएगी। लेकिन अभी तक वे भटक रहे हैं। नए अधिकारी आए हैं, उनसे फड़ी दुकानदारों की समस्या से अवगत कराकर समस्या का समाधान कराया जाएगा। गुरुवार को पूर्व मंत्री मनीष कुमार ग्रोवर से भी फड़ी दुकानदारों को मिलवाकर उनकी बात कराई जाएगी। ताकि मुश्किल का हल निकाला जा सके।

ये है मामला

भगत सिंह पार्किंग की जगह पर देश को आजादी मिलने के समय से सबसे पुरानी फुटकर सब्जी मंडी लगती थी। यहां के फड़ी लगाकर कई परिवारों की 3 पीढ़ियां अपना गुजारा करती आ रही थीं। इस बीच वर्ष 2009 में तत्कालीन उपायुक्त राजेश खुल्लर ने बड़ा बाजर जाने के लिए सीधा रास्ता देने के नाम पर बीच से जगह मांग कर सड़क बनवा दी। इसके बाद दो हिस्से में बंटी सब्जी मंडी में फड़ी दुकानदार अपनी रोजी रोटी जुटा लेते थे। लेकिन वर्ष 2012 में आसपास के बाजारों के व्यापारिक संगठन व व्यापारी नेता राजेश लूंबा टीनू और नगर निगम के अधिकारियों की ओर इस जगह को पार्किंग बनाने का हवाला देते हुए ले ली गई।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज घर से संबंधित कार्यों को संपन्न करने में व्यस्तता बनी रहेगी। किसी विशेष व्यक्ति का सानिध्य प्राप्त हुआ। जिससे आपकी विचारधारा में महत्वपूर्ण परिवर्तन होगा। भाइयों के साथ चला आ रहा संपत्ति य...

और पढ़ें