सियासत का बाजार..:दो सरपरस्त का यू टर्न, कांग्रेसी सचदेवा का कार्यकाल 6 माह बढ़ाया, भाजपा समर्थक नई कार्यकारिणी पर अड़े

रोहतकएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
किला राेड पर व्यापारियाें के साथ बैठक करते प्रधान बिट्टू सचदेवा। - Dainik Bhaskar
किला राेड पर व्यापारियाें के साथ बैठक करते प्रधान बिट्टू सचदेवा।
  • . किला रोड मार्केट एसोसिएशन में हाई वोल्टेज पाॅलिटिकल ड्रामा, 1 दिन पहले का फैसला पलटा

किलारोड ट्रेडर्स एसोसिएशन की कार्यकारिणी भंग करने के अगले ही दिन संगठन के तीन में से दो सरपस्त सुनील बोंड्रा और विशंभर आहूजा कार्रवाई से पलट गए। उन्होंने मंगलवार की शाम को कांग्रेसी खेमे से बिट्‌टू सचदेवा के साथ बैठक की और उनका कार्यकाल 6 महीने के लिए बढ़ा दिया। इधर खबर लगते ही भाजपाई गुट के दुकानदारों ने भी आपात बैठक बुलाई। दाेनाें सरपरस्त भी इसमें माैजूद रहे। भाजपा गुट के ये दुकानदार बिट्टू सचदेवा को मौका देने के फैसले के काफी खिलाफ थे। काफी देर तक इस मीटिंग में हंगामा होता रहा। हालांकि इस पर सहमति नहीं बन पाई। अंतत: मीटिंग खत्म करनी पड़ी। इधर बिट्‌टू सचदेवा ने मंगलवार की शाम 6 बजे किलारोड बाजार में संगठन के पदाधिकारियों की बैठक बुलाई।

तीन में से दो सरपरस्त सुनील बोंड्रा व विशंभर आहूजा, कार्यकारिणी सदस्य ललित सुनेजा, गुलशन बतरा, विजय भूटानी, विवेक चौधरी, संजय जुनेजा, गोपाल दास आहुजा, रमेश गांधी, गुलशन चौधरी के अलावा पप्पू कथूरिया, सतीश अहलावत, वीरेंद्र खेड़ा, भूपेंद्र सुनेजा, गौरव सुनेजा आदि दुकानदार शामिल हुए। विचार-विमर्श के बाद सर्वसम्मति से किलारोड ट्रेडर्स एसोसिएशन के प्रधान बिट्‌टू सचदेवा का कार्यकाल और 6 महीने बढ़ाने की घोषणा की।

इधर मंगलवार को दिनभर चले घटनाक्रम को देखते हुए बुधवार को भी किलारोड बाजार की सियासत में हाई वोल्टेज ड्रामे के आसार बने हैं। एसोसिएशन के तीसरे सरपस्त नरेंद्र कथूरिया की ओर से किलारोड ट्रेडर्स एसोसिएशन की ओर से और एक बैठक बुलाने की तैयारी है।
एसोसिएशन के 1 सरपरस्त कथूरिया को लेकर प्रधान गुट का दावा किया- उन्हें डेढ़ साल पहले हटा दिया, उनका फैसला मायने नहीं रखता

नरेंद्र कथूरिया नहीं हैं किला रोड ट्रेडर्स एसोसिएशन के सरपस्त
किलारोड ट्रेडर्स एसोसिएशन के प्रधान बिट्‌टू सचदेवा ने बताया कि नरेंद्र कथूरिया किला रोड ट्रेडर्स एसोसिएशन के सरपस्त नहीं हैं। उनको डेढ़ साल पहले ही हटा दिया है। ऐसे में सोमवार को हुई बैठक में उनके शामिल होने का औचित्य नहीं है। उनका फैसला कोई मायने नहीं रखता।

लेटरपैड पर फ्लूड लगाकर सरपरस्त को हटाने का आरोप
दूसरी ओर भाजपाई गुट के दुकानदारों का आरोप है कि दो सरपरस्तों सुनील बोंड्रा और विशंभर आहूजा अपनी जबान से पलट गए हैं। उन्होंने 24 घंटे के अंदर ही मंगलवार की शाम बैठक कर बिट्‌टू सचदेवा का 6 महीने का कार्यकाल बढ़ा दिया। इतना ही नहीं उन सभी ने किलारोड ट्रेडर्स एसोसिएशन के सरपरस्त नरेंद्र कथूरिया को भी अपने संगठन के लेटर पैड पर फ्लूड लगाकर हटाए जाने का ड्राम किया है।

मुझे प्रधानी से हटाने की तो मीटिंग में बात ही नहीं आई
किलारोड ट्रेडर्स एसोसिएशन के दो सरपरस्त व अन्य पदाधिकारियों की बैठक मंगलवार की शाम को हुई। इसमें मुझे प्रधान पद से हटाने जैसी कोई बात नहीं आई है। रही बात बाजार में सीवर ओवरफ्लो होने की तो इस समस्या का समाधान कराया जा रहा है। मैंने मंगलवार की देर रात तक मौके पर ही मौजूद रहकर सीवर की सफाई करवा दी है। कुछ लोग तमाशा बनाना चाहते हैं, लेकिन मुझे बाजार का भाईचारा बनाए रखना है।
-बिट्टूट सचदेवा, प्रधान किलारोड ट्रेडर्स एसोसिएशन।

सर्वसम्मति से सचदेवा को 6 माह का और समय दिया
मंगलवार की शाम को हुई बैठक में सर्वसम्मति से बिट्‌टू सचदेवा को हमने 6 महीने का और समय दिया है। साथ ही उनसे ओवरफ्लो हो रहे सीवर समेत किलारोड बाजार की समस्याओं का समाधान करवाने को कहा गया है। इसके बाद सुनीला बोंड्रा की दुकान पर भी बैठक हुई। जहां पर मौजूद जगदीश व श्याम मिनाेचा आदि 21 लोगों ने बिट्‌टू सचदेवा को हटाने पर एतराज जताया। -विशंभर आहूजा, सरपस्त किलारोड ट्रेडर्स एसोसिएशन।

खबरें और भी हैं...