पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Rohtak
  • Virus Infection Found In 411 People, 9 Deaths In Government Bulletin, 36 Dead Bodies Cremated With Kovid Protocol

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना वायरस:411 लाेगों में वायरस का संक्रमण मिला, सरकारी बुलेटिन में 9 मौत, कोविड प्रोटोकॉल से 36 शवों का किया गया संस्कार

रोहतक2 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

संक्रमण की दूसरी लहर में कोरोना का वायरस तेजी से फैल रहा है। ऐसे में कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। हालात यह हो गए कि पीजीआई में जिले के 45 सहित आसपास के जिलों व समीपवर्ती राज्यों से आकर 270 से ज्यादा कोविड मरीज इलाज करा रहे हैं। जिले के 1577 लोग हाेम आइसोलेट हैं।

सिविल अस्पताल में बेड की संख्या 23 से बढ़ाकर 36 कर दी हैं। इनमें सात आईसीयू बेड व दो वेंटिलेटर सहित सभी बेड फुल हैं। सोमवार को जिले में 411 कोरोना के नए केस मिले हैं। इनमें 56 स्टूडेंट्स शामिल हैं।

  • 17,982 जिले में अब तक पाॅजिटिव मिले हैं
  • 16,123 कुल रिकवर हो घर लौट चुके हैं
  • 239 मौतें अभी तक हो चुकी हैं जिले में
  • 43 मरीज पीजीआई सहित अन्य निजी अस्पतालों और 1577 मरीज होम आइसोलेशन में हैं।
  • 2260 लोगों के सैंपल लेकर लैब में टेस्ट के लिए भेजे। 1691 लोगों की सैंपल टेस्ट का रिपोर्ट आने का इंतजार किया जाता रहा।

89.66% रिकवरी रेट

जिले में एक तरफ मरीजों के रिकवर होने की संख्या बढ़ रही है तो वहीं, जिले का ओवरऑल दिन पर दिन घट रहा है। सोमवार को रिकवरी रेट घटकर 89.66 फीसदी पर दर्ज किया, जबकि कोविड पॉजिटिवटी रेट 4.86 फीसदी दर्ज किया है।

ऑक्सीजन बेड बढ़ाए जाएंगे

पीजीआई प्रशासन ने अब लाला शामलाल बिल्डिंग में 120 बेड और वार्ड नंबर छह को खाली कराकर यहां पर कोविड मरीजों के लिए बेड बढ़ाने की संभावनाएं तलाशने में जुट गया है। सोमवार को पीजीआई के कोविड 19 नोडल अधिकारी डॉ. एसके सिंघल ने चिकित्सकों के साथ मीटिंग कर बेड की संख्या को बढ़ाने पर मंथन किया।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- दिन सामान्य ही व्यतीत होगा। कोई भी काम करने से पहले उसके बारे में गहराई से जानकारी अवश्य लें। मुश्किल समय में किसी प्रभावशाली व्यक्ति की सलाह तथा सहयोग भी मिलेगा। समाज सेवी संस्थाओं के प्रति ...

    और पढ़ें