पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Rohtak
  • With The Expectations Of The Corporation, The Budget Is Increasing Year After Year, Spending Is More Than The Amount Of Money, It Is Not Known From Where The Money Will Come.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

निगम का बजट आज:उम्मीदों के सहारे निगम का साल दर साल बढ़ रहा बजट, आमदनी से ज्यादा है खर्च, पैसा कहां से आएगा पता नहीं

रोहतक5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • धरातल पर आमदनी व खर्च के मुताबिक बजट कहीं भी नहीं बैठता सटीक, दावे दिखाई देते हैं हवाई
  • पिछले बजट में 149 करोड़ की आमदनी का दावा था, लेकिन 109 करोड़ ही कमा पाए

नगर निगम आज 2021-22 वित्त सत्र का बजट पेश करेगा। निगम में साल दर साल बजट बढ़ता ही जा रहा है, लेकिन सिर्फ उम्मीदों के सहारे। धरातल पर आमदनी व खर्च के मुताबिक बजट कहीं भी सटीक नहीं बैठता। पिछले साल के बजट में दावा किया गया था इस बार 149 करोड़ रुपए की आमदनी होगी, लेकिन अब तक मात्र 109 करोड़ रुपए की कमा पाए हैं।

अब नए बजट में 162 करोड़ रुपए का प्रावधान करने जा रहे हैं। यह पैसा आएगा कहां से पता किसी को नहीं है। चूंकि सब दावे हवाई ज्यादा नजर आते हैं। निगम की ओर से जारी किए आंकड़ों की सच्चाई कुछ ओर ही है। पिछले साल हाउस टैक्स 48 करोड़ रुपए एकत्र करने का लक्ष्य रखा गया। अब तक आए सिर्फ 18 करोड़ रुपए हैं।

बचे हुए दिनों में दावा है कि 30 करोड़ तक पहुंच जाएंगे। अब नए बजट के लिए 55 करोड़ हाउस टैक्स से जुटाने का दावा डाला है। जोकि सच्चाई से काेसों दूर है।

अब नए बजट के लिए 55 करोड़ हाउस टैक्स व स्टांप ड्यूटी से 30 करोड़ जुटाने का दावा

इस बार फिर लाखों के दावे, आमदनी हुई नहीं

इतना ही नहीं, मृत पशुओं के ठेके का पिछले बजट में 20 लाख का लक्ष्य था, अब इसे 25 लाख रुपए कर दिया है, जबकि आमदनी के नाम पर आंकड़ाें में शून्य नजर आती है। इसी तरह से गार्डन और सड़क किनारे लगे पेड़ों से पिछली बार भी 10 लाख रुपए लाने की बात रखी गई। अब फिर 10 लाख रुपए नए बजट के लिए तय किया है, जबकि आमदनी शून्य हुई है। इसी तरह से लीज की दुकानों, जमीन की बिक्री के दो करोड़ रुपए में से 62 लाख रुपए आए हैं, इसे अब 10 करोड़ रुपए कमाने का अनुमान जताया है। इसके अलावा, विज्ञापन से 46 लाख रुपए आने हैं, अब 2.5 करोड़ रुपए की उम्मीद जता दी है।

2021-22 का अनुमानित बजट

स्टांप ड्यूटी - 30 करोड़ फीस - 3.5 करोड़ हाउस टैक्स - 55 करोड़ फायर टैक्स - 1.50 करोड़ मृत पशुओं का ठेका - 25 लाख विकास शुल्क - 20 करोड़ कोपिंग फीस - 25 लाख किराया - 8 करोड़ सर्विस टैक्स - 50 लाख ब्याज से आय - 20 करोड़ तहबाजारी - 5 लाख विज्ञापन - 2.50 करोड़ इलेक्ट्रिसिटी ड्यूटी - 10 करोड़ कमर्शियल ट्रेड लाइसेंस - 80 लाख एडवांस आय - 02 करोड़़ शो टैक्स - 01 लाख टावर फीस व एरियर - 04 करोड़ यूजर चार्ज - 10 करोड़ कुल बजट - 162.39 करोड़

मेयर बोले- सरकार ग्रांट दे और जनता साथ, तो बनेगी बात

मेयर मनमोहन गोयल ने बताया कि हां महीने की आमदनी तो 6 से साढ़े 6 करोड़ रुपए है, लेकिन खर्च साढ़े 9 करोड़ रुपए के करीब हो जाता है। पिछले साल कोरोना के कारण ज्यादा खर्च हुआ है। फिर भी अब प्रयास करेंगे कि ज्यादा आमदनी हो सके। }

खर्चाें को कम किया जाएगा।

ग्रांट ना आने से वेतन भी अटक जाता है, सरकार से ग्रांट मांगेंगे।

जनता सभी तरह के टैक्स जमा कराए।

प्रापर्टी आईडी से भी आमदनी की उम्मीद है।

ये रहेगा अनुमानित खर्च

कर्मचारियों पर - 67 करोड़ सफाई पर - 16 करोड़ स्ट्रीट लाइट - 04 करोड़ बिजली बिल - 06 करोड़ टेलीफोन बिल - 30 लाख विज्ञापन व वीआईपी कार्यक्रम - 30 लाख ऑडिट फीस - 01 करोड़ मेडिकल अलाउंस - 01 करोड़ डिवेलपमेंट वर्क - 15 करोड़ गोशाला - 2.5 करोड़ कुल खर्च - 150.86 करोड़

खुराना ने उठाए सवाल, दिए सुझाव

  • वार्ड-13 से पार्षद प्रतिनिधि अशोक खुराना ने मेयर व आयुक्त को पत्र लिख निगम की चिंताजनक आर्थिक स्थिति के बारे में अवगत करवाया है।
  • शहर में निर्मित एवं निर्माणाधीन एक भी बिल्डिंग भवन उपनियमों के अनुसार नहीं बनी। लोग रिहायशी नक्शा पास करवाकर धड़ल्ले से व्यावसायिक भवनों का निर्माण कर रहे हैं। अधिकारी भी अनजान बने हैं। इससे निगम राजस्व पर असर पड़ रहा है।
  • मिलीभगत से कम्युनिटी सेंटर लूट का अड्डा बन गए हैं। शहीद मदन लाल धींगड़ा कम्युनिटी सेंटर को निगम ने 70 हजार के मासिक किराए पर दिया, जबकि ठेकेदार ने दूसरे ठेकेदार को 11 लाख में दे दिया।
खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज जीवन में कोई अप्रत्याशित बदलाव आएगा। उसे स्वीकारना आपके लिए भाग्योदय दायक रहेगा। परिवार से संबंधित किसी महत्वपूर्ण मुद्दे पर विचार विमर्श में आपकी सलाह को विशेष सहमति दी जाएगी। नेगेटिव-...

    और पढ़ें