बहन की शादी से पहले उठी भाई की अर्थी:हिसार में कुल्हाड़ी मारकर युवक की हत्या; दिहाड़ी के 2500 रुपए देने के बहाने बुलाया; चाचा को फोन कर कहा- भतीजे का शव उठा ले जाओ

रोहतक4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मृतक अतुल (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
मृतक अतुल (फाइल फोटो)

हरियाणा के हिसार जिले में बहन की शादी से पहले भाई की अर्थी उठ गई और खुशियां मातम में बदल गईं। एक युवक के सिर पर कुल्हाड़ी से वार करके हत्या कर दी गई। हत्या करने वाले मृतक के परिचित हैं। मृतक को युवक से अपनी दिहाड़ी के 2500 रुपए लेने थे। यह राशि करीब 3 महीने से बकाया थी। मृतक की बहन की 12 दिन बाद शादी होनी है। ‌इसलिए युवक को पैसों की जरूरत थी।

उसने आरोपी को रुपए देने के बारे में कई बार टोक दिया। इसी रंजिश के चलते आरोपियों ने युवक को रुपए देने के बहाने घर बुलाया और आरोपी बाप-बेटा ने सिर में कुल्हाड़ी मारकर उसकी हत्या कर दी। इतना हीं नहीं, आरोपियों ने हत्या करने के बाद उसके चाचा को फोन करके कहा कि उन्होंने युवक की हत्या कर दी है, आकर शव को उठा ले जाओ। पुलिस ने परिजनों के बयानों के आधार पर आरोपी बाप-बेटा के खिलाफ हत्या समेत अन्य धाराओं में केस दर्ज कर लिया है।

दिहाड़ी के 2500 रुपए देने के बहाने बुलाया
हिसार एचएमटी थाना पुलिस को दी शिकायत में तेजेंद्र ने बताया कि वह बड़वाली ढाणी सब्जी मंडी चौक हिसार का रहने वाला है। वह लकड़ी मिस्त्री का काम करता है। उसके दो भाई व एक बहन है। सबसे बड़ा वह खुद, छोटा भाई अश्वनी है व उससे छोटा भाई अतुल (26) था। सबसे छोटी बहन जया है। अतुल अविवाहित था। अतुल व दिनेश निवासी बड़वाली ढाणी ने दीपक उर्फ दीपू निवासी महाबीर कॉलोनी हिसार के पास फ्लेक्स बोर्ड लगाने का काम किया था। अतुल ने लेबर के करीब 2500 रुपए दीपक से लेने थे।

रविवार रात करीब साढ़े 9 बजे रात को दीपक ने अतुल को फोन करके लेबर के रुपए लेने के लिए अपने घर बुलाया था। जिसके बाद अतुल व दिनेश दोनों बाइक पर दीपक के घर चले गए। जहां पर पहले से ही तैयार बैठे दीपक व उसके पिता राहुल ने मिलकर दिनेश के सिर में बाई तरफ कुल्हाड़ी से वार किया। राहुल ने बांस का डंडा अतुल के सिर मे मारा। इसके बाद दीपक ने कुल्हाड़ी अतुल के सिर में मारी, जिससे अतुल की मौत हो गई।

हत्या करने के बाद मृतक के चाचा को फोन किया
शिकायत के अनुसार, पूरी वारदात आरोपी दीपक के घर के बाहर हुई। अतुल ने कुल्हाड़ी का वार होने के बाद मौके पर ही दम तोड़ दिया। इसके बाद आरोपी दीपक ने फोन करके अतुल के चाचा अशोक को बताया कि मैंने और मेरे पिता ने अतुल को मार दिया है।

इसको यहां से उठाकर ले जाओ। सूचना मिलते ही परिजन मौके पर पहुंचे तो देखा कि दीपक अपने हाथ में कुल्हाड़ी लिए अपने मकान के सामने गली में बैठा था। उसका पिता राहुल भी मौके पर ही था। गली में ही खून से लथपथ हालत में अतुल का शव पड़ा था। मौके पर अतुल का साथी दिनेश भी मौजूद था। जिसने पूरी वारदात के बारे में उन्हें बताया। वारदात में दिनेश को भी चोट आई है।

खबरें और भी हैं...