बैठक / जिप बैठक 29 को, मोबाइल टावर की फीस व एफडी तुड़वाने पर होगा मंथन

X

  • बैठक में सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क, हैंड सेनिटाइजर समेत अन्य नियमों का रखा जाएगा पूरा ध्यान

दैनिक भास्कर

May 23, 2020, 06:56 AM IST

रोहतक. लाॅकडाउन के दौरान जिले में विकास कार्यों को लेकर जिला परिषद की साधारण बैठक 29 मई को जिला परिषद के चेयरमैन सतीश भालौठ की अध्यक्षता में की जाएगी। इसमें जिले में मोबाइल टावर की फीस व एफडी तुड़वाने पर मंथन होगा। कोरोना महामारी के खतरे को देखते पहली बार जिला परिषद की बैठक को सोशल डिस्टेसिंग से पूरा करने के लिए जिला विकास भवन के ग्राउंड फ्लोर स्थित कांफ्रेंस हॉल में किया जाएगा। बैठक में सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क, हैड सेनिटाइजर समेत अन्य नियमों का पूरा ध्यान रखा जाएगा। इस बैठक में जिला परिषद की 14 फरवरी को हुई बैठक और विशेष बैठक एक अप्रैल की कार्रवाई को लेकर चर्चा की जाएगी। इसके बाद पिछली बैठक की एक्शन टेकन रिपोर्ट पर चर्चा होगी। 

बैठक का ये होगा एजेंडा 

{पीआरआई स्कीम के अंतर्गत खंड विकास एंव पंचायत अधिकारियों को भेजी गई राशि के प्रयोगात्मक प्रमाण पत्र भिजवाने के बारे में।
{जिला परिषद की अन्य स्कीमों के बारे में  
{मिडे मिल योजना के अंतर्गत कार्यों की मॉनिटरिंग।
{महिला एंव बाल विकास विभाग आंगनबाड़ी निर्माण।
{स्वास्थ्य विभाग उपकेंद्र का रख रखाव 
{परिवाहन विभाग बस क्यू शेल्टर के निर्माण।
{मनरेगा आईडब्लयूएमपी, पीएमएवाईजी योजना की प्रगति की समीक्षा।
{मनरेगा स्कीम के अंतर्गत 60:40 के अनुपात से ज्यादा कार्य मनरेगा स्कीम के अंतर्गत करवाने और जिन गांवों में 60 प्रतिशत कच्चा कार्य करवाया गया है। उन्हीं गांव में 40 प्रतिशत पक्का कार्य करवाने के बारे में।

 {सरकार की हिदायत अनुसार विकास कार्यों की एमबी भरने।
{ग्रामीण क्षेत्रों के कच्चे रास्तों में आने जाने के लिए आरसीसी के पाइप खरीद।
{ग्राम पंचायतों की भूमि अधिग्रहण की एफडी तुडवाने की मंजूरी।
{पीआरआई स्कीम के अंतर्गत ब्याज की राशि को विकास कार्यों में खर्च। 
{ब्लाक समितियां की ओर से फोगिंग मशीन खरीदने।
{जिला परिषद में लेखाकार और सहायता के रिक्त पद पर रिटायर्ड कर्मचारी को अनुबंधित आधार पर लगाने।
{कृषि से संबंधित एडीओज की जानकारी। 
{ग्राम स्तर पर पीएचसी और सीएचसी में दवाइयां प्राप्त होने से पूर्व व्हाट्सएप पर सरपंच और पंचायत समिति सदस्य और जिला परिषद सदस्य को सूचित करने व पीएचसी और सीएचसी में नियुक्त डॉक्टरों की ओर से मूवमेंट रजिस्टर मेनटेन करने के बारे में, ताकि मरीजों को किसी प्रकार की परेशानी न हो।
{सरकार की हिदायत अनुसार जिला परिषद के तमाम सरकारी कार्य हिंदी में करने और पत्र व्यवहार हिंदी में करने।
{टावरों बारे नियमानुसार कार्रवाई करने के लिए।
{नियम 134ए के तहत प्राइवेट स्कूलों में दाखिला व फीस।
{अधिकारियों व कर्मचारियों की ओर से फील्ड में जाने से पूर्व रजिस्टर मेनटेन करने बाद, ताकि आम जनता को कोई परेशानी न हो।
{जिला परिषद के चेयरमैन की ओर से मुख्य कार्यकारी अधिकारी को पत्र लिखकर 11 लाख रुपए के मास्क खरीदने।
{जिला परिषद के स्वामित्व वाली परिसम्पत्तियों के बारे में सूचना प्रदान करने।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना