पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

आरोपों में घिरा शिक्षा विभाग:मेवात के शिक्षक का हवाला देकर बढ़ाया 6600 रुपए वेतन, डीडीओ ने फ्रॉड बताकर एरियर रोका; मगर जिला कार्यालय ने निकालकर दे दिया

रेवाड़ी8 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • फर्जीवाड़े के आरोप लगा रहे सेवानिवृत शिक्षक बोले-जांच हुई तो होगा बड़ा खुलासा
  • जिला के एक विषय विशेषज्ञ के खिलाफ आरोप, प्रदेश सरकार को भेजी शिकायत
  • विभागीय अफसरों की टेबल पर कंप्लेंट, लेकिन कार्रवाई कुछ नहीं हो रही!

रिटायर शिक्षक ओमप्रकाश के अनुसार 7वें वेतन आयोग के तहत 1 जनवरी 2016 को ग्रेड रिवाइज हुई थी। इसमें सरकार ने फायदा दिया था कि 31 दिसंबर 2015 को जो बेसिक-पे है उसे 2.57 से गुना कर लो। 2.57 सातवें वेतन आयोग की टर्म एंड कंडीशन है।

इस नियम से विषय विशेषज्ञ की 2.57 से गुना करने के बाद 58600 होनी चाहिए। जबकि उन्होंने 2019 में अपने जूनियर मेवात के एहताशमुद्दीन खान का उदाहरण देकर 6600 रुपए ज्यादा करा ली। इससे उनका वेतन 65200 हो गया।

डीडीओ ने पत्राचार किए तो ले ली डीडीओ पावर
वेतन बढ़ाने के बाद विषय विशेषज्ञ शिक्षक ने 2016 से 2019 तक का एरियर निकलवाने के लिए भी फाइल लगाई। ये एरियर राजकीय उच्च विद्यालय टींट से निकलवाना चाहते थे। टींट स्कूल के अंग्रेजी प्रवक्ता संजय कुमार के पास टींट स्कूल का डीडीओ पावर थी। जनवरी 2020 में एरियर के लिए फाइल भेजी। संजय कुमार ने अपने स्तर पर जांच कराने के बाद पाया यह फ्रॉड तरीके से हुआ है।

इसलिए उन्होंने एरियर निकालने से इंकार करते हुए विषय विशेषज्ञ की जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय से सर्विस बुक मांगी। इसके बाद संजय कुमार की डीडीओ पावर ही ले ली गई। ओम प्रकाश के अनुसार चौंकाने वाली बात ये है कि डीडीओ की आपत्ति पर गौर करने की बजाय एरियर जिला कार्यालय से निकाल दिया गया।

रिटायर्ड एसओ तक से चेक कराया, गलत है पे-फिक्सेशन

टींट प्रवक्ता संजय कुमार ने बताया कि जनवरी 2020 में एरियर निकलवाने के लिए अपना पे-फिक्सेशन गलत लगाकर मेरे पास भेजा था। हमने सेवानिवृत सेक्शन ऑफिसर से चेक कराया तो पता लगा कि यह फ्रॉड है। यदि डीडीओ गलत एरियर निकालकर दे तो वह खुद फंसेगा। इसलिए हमने एरियर निकालने की बजाय सर्विस बुक मांगी। इसके बाद विशेष विशेषज्ञ खुद भी आए।

हमने डीईओ को पत्र लिखा कि सर्विस बुक दे दीजिए, मगर जवाब नहीं आया। मार्च के अंत में टेक्सेशन के लिए वेतन चेक करते समय पता लगा कि विषय विशेषज्ञ शिक्षक की पत्नी का भी एक साल में दो-दो इंक्रीमेंट गलत लगे हुए हैं।

इसमें उदाहरण (एट-पार) अन्य शिक्षिका के वेतन का दे रखा है। इसके लिए भी हमने चिट्‌ठी लिखी। आखिर अधिकारियों ने ने दबाव बनाकर उनसे डीडीओ पावर ले ली। अधिकारियों ने मेरा काम बेहतर बताया मगर फोन कर डीडीओ पावर छोड़ने को कहा। मैंने मजबूरी लिखकर दे दिया।

एफआईआर होनी चाहिए : शिकायतकर्ता
शिकायतकर्ता ओमप्रकाश का कहना है कि विषय विशेषज्ञ होने के नाते उक्त शिक्षक को पूरा ज्ञान है कि वेतन 2.57 के फॉर्मूले से ही बढ़ा है, मगर 4 साल बाद मिलीभगत कर फ्रॉड करते हुए गलत तरीके से लाभ लिए। मेवात के जिस शिक्षक का उदाहरण दिया वो भी गलत है। विभाग यदि जांच करे तो यह बड़ा फर्जीवाड़ा पकड़ में आएगा।

गलत दिया तो वापस ले लेंगे : डीईओ
डीईओ राजेश कुमार का कहना है कि विभाग के पास दोनों तरीके हैं। यदि किसी का हक रह गया हो तो वो एरियर निकलवा सकता है। यदि किसी ने ज्यादा ले लिया तो उससे वापस (रिकवरी) ले लेंगे।

जूनियर की ज्यादा सैलरी कैसे होगी : एक्सपर्ट
आरोपों पर विषय विशेषज्ञ का कहना है कि मेवात में उनसे जूनियर शिक्षक का वेतन उनसे ज्यादा था। यह केस उनके संज्ञान में आया तो उन्होंने इसका हवाला देकर वेतन बढ़ाने की फाइल लगाई। विभाग ने बढ़ाकर दिया है। यदि मेवात के शिक्षक का वेतन गलत बढ़ा है तो उससे होने पर हमसे भी रिकवरी हो जाएगी।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- घर के बड़े बुजुर्गों की देखभाल व उनका मान-सम्मान करना, आपके भाग्य में वृद्धि करेगा। राजनीतिक संपर्क आपके लिए शुभ अवसर प्रदान करेंगे। आज का दिन विशेष तौर पर महिलाओं के लिए बहुत ही शुभ है। उनकी ...

और पढ़ें