मां ने ममता पर लगाया कलंक:सोनीपत के गोहाना इलाके में एक दिन के नवजात को गन्ने के खेत में छोड़कर फरार, किसान ने किलकारी सुनी तो पुलिस को बुलाया

रेवाड़ी/सोनीपत2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अस्पताल में भर्ती नवजात शिशु। - Dainik Bhaskar
अस्पताल में भर्ती नवजात शिशु।

देश की राजधानी दिल्ली से सटे सोनीपत में एक कलयुगी मां एक दिन के नवजात शिशु को गन्ने के खेत में फेंक कर फरार हो गई। खेत में घूमने गए किसान ने जब बच्चे की किलकारी सुनी तो वह बच्चे के पास पहुंचा और इसकी सूचना तुरंत पुलिस को दी। सूचना के बाद पुलिस ने नवजात शिशु को खानपुर के मैडिकल कॉलेज में भर्ती कराया हैं। वहीं दूसरी तरफ आरोपी की तलाश भी शुरू कर दी हैं।

मिली जानकारी के अनुसार सोनीपत जिले के गोहाना हल्के के गांव कथुरा के गन्ने के खेत में एक दिन के नवजात शिशु को कोई अज्ञात महिला फेंककर फरार हो गई। गांव के किसान सत्यपाल व रामकुमार जब खेतों की तरफ घूमने गए तो उन्हें गन्ने के खेत से नवजात शिशु के रोने की आवाज सुनाई दी। खेत के भीतर घुसकर देखा तो एक कपड़े से नवजात शिशु लिपटा हुआ था। इसकी सूचना तुरंत बरोदा थाना पुलिस को दी गई।

मौके पर पहुंची पुलिस ने बच्चे को तुरंत खानपुर मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती करवाया है, जहां उसका इलाज चल रहा है। पुलिस मामले की जांच में जुटी है कि आखिर इस नवजात शिशु को यहां कौन फेंक कर गया। नवजात शिशु एक दिन का बताया जा रहा है। वहीं दूसरी तरफ चाइल्ड वेलफेयर कमेटी सदस्य सुनीता देवी ने बताया कि शिशु को स्पेशल अडॉप्शन एजेंसी भेजने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है ताकि उसका बेहतरीन पालन-पोषण हो सकें।

खबरें और भी हैं...