शहर में कोरोना:साढ़े 7 माह बाद कोरोना 100 की स्पीड में; 116 नए केस, सक्रिय मरीज 359 हुए; 1718 की रिपोर्ट पेंडिंग

रेवाड़ी3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • महीनेभर में केस अधिक आएंगे, पाबंदियां भी बढ़ेंगी, दूसरी लहर में 20 अप्रैल को आए थे 115 केस, 27 मई तक कई बार 100 पार हुए

कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर धीरे-धीरे पीक की तरफ बढ़नी शुरू हो गई है। गुरुवार को एक दिन में 116 पॉजिटिव केस आए हैं। इतनी अधिक संख्या में करीब साढ़े 7 माह बाद इतने केस सामने आए हैं। इससे पहले 27 मई को 139 मामले मिले थे। उस समय दूसरी लहर उतार की ओर थी। इसके बाद धीरे-धीरे केस कम होते चले गए तथा दो सप्ताह बाद स्थिति सामान्य होने लगी थी।

आंकड़े स्पष्ट बता रहे हैं कि दूसरी लहर से तेज इस बार की तीसरी लहर है। उस समय करीब 3 सप्ताह का समय लगा था, जब केस 100 के आंकड़े के पार पहुंचने लगे थे। जबकि इस बार दो सप्ताह में ही इस स्तर तक संक्रमण फैल चुका है। नए मिले 116 केस के साथ जिले में सक्रिय मरीजों की संख्या भी 359 हो गई है। राहत की बात ये है कि इनमें से अधिकतर लोग होम क्वारिन्टाइन किए गए हैं। 50 संक्रमित ठीक भी हुए हैं।

10 लोग अस्पताल में, सभी नॉन-ऑक्सीजन बेड पर

कोरोना के नए वैरिएंट को लेकर विशेषज्ञ लगातार नजर बनाए हुए हैं। अभी तक की रिपोर्ट के आधार पर सामने आ रहा है कि यह संक्रमण फैलने में तेज है, मगर उतना घातक साबित नहीं हुआ है, जितना दूसरी लहर ने कहर बरपाया था। अभी तक 359 में से 349 मरीज होम आईसोलेट किए गए हैं, जबकि सिर्फ 10 ही मरीज अस्पताल में भर्ती हैं। स्वास्थ्य अधिकारियों के अनुसार सभी लोग नॉन-ऑक्सीजन बेड पर हैं। यानी कि इनकी स्थिति गंभीर नहीं है। जबकि पिछली बार इतने केस होने पर भर्ती होने वालों में कुछ लोगों की हालत गंभीर बनी हुई थी।

प्रशासन ने संक्रमण रोकने को लेकर फिर जारी की हिदायतें

स्कूल-कॉलेज ना खोलें : जिला में सभी राजकीय व निजी स्कूल, कॉलेज, पॉलीटेक्निक, आईटीआई, कोचिंग इंस्टीट्यूट, लाइब्रेरी तथा ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट और आंगनबाड़ी केंद्र बच्चों के लिए बंद किए गए हैं। 26 जनवरी तक या सरकारी आदेश आने तक बच्चों को इनमें नहीं बुलाया जाए। नियमों की अवहेलना करने पर कार्रवाई होगी। दुकानें व बाजार शाम 6 बजे तक खुलें।

धरना-प्रदर्शन पर प्रतिबंध : कोरोना संक्रमण बढ़ने के कारण महामारी अलर्ट-सुरक्षित हरियाणा की अवधि 19 जनवरी तक बढ़ाई हुई है। इसके तहत जिले में कोविड संक्रमण को देखते हुए भीड़ एकत्रित होने जैसे सभी प्रकार की जनसभा, रैली, धरना प्रदर्शन आदि पर भी प्रतिबंध लगाया हुआ है। किसी भी स्थान पर बड़ी संख्या में लोगों के एकत्रित होने पर पाबंदी रहेगी।

नो वैक्सीन, नो एंट्री की पालना करें : सार्वजनिक स्थलों जैसे सब्जी मंडी, अनाजमंडी, सार्वजनिक परिवहन (बस स्टेंड व रेलवे स्टेशन), पार्क, धार्मिक स्थलों, रेस्टोरेंट्स, बार, होटल, राशन की दुकानों, मॉल्स, शॉपिंग कांप्लेक्स, हाट, स्थानीय बाजार, पेट्रोल पंप, जिम व फिटनेस सेंटर, सभी सरकारी बोर्ड, निगम कार्यालयों, निजी व सरकारी बैंकों में उन्हीं को प्रवेश मिलेगा जिनको वैक्सीन की दोनों डोज लगी हो।

हैरानी... आरटीपीसीआर टेस्ट पॉजिटिव दिखाया, फिर 4 जगह निगेटिव आया

मोहल्ला गुलाबी बाग निवासी एक छात्रा द्वारा विदेश यात्रा से पहले कराए कोरोना टेस्ट चौंकाने वाले रहे। छात्रा के भाई दुर्गेश ने बताया कि 9 जनवरी को बहन शिक्षा को विदेश यात्रा करनी थी। आईसीएमआर से अधिकृत लैब से कोरोना जांच टेस्ट रिपोर्ट जरूरी थी। 7 जनवरी को सुबह गढ़ी बोलनी रोड स्थित एक निजी लैब में आरटीपीसीआर जांच कराई। शिखा की रिपोर्ट पॉजिटिव बताई गई।

उन्होंने रैपिड टेस्ट कराया तो रिपोर्ट निगेटिव मिली। अगले दिन गुड़गांव की एक निजी लैब से ही फिर से आरटीपीसीआर टेस्ट कराया। यहां भी रिपोर्ट निगेटिव आई। एयरपोर्ट तथा विदेश में भी टेस्ट हुए, सभी रिपोर्ट निगेटिव रही। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग से मांग की कि निजी अस्पताल और लैब में टेस्टिंग की मॉनिटरिंग होे।

खबरें और भी हैं...