BJP नेता की थाने में बंद कर पिटाई:फरीदाबाद पुलिस कमिश्नर ने हैड कांस्टेबल को सस्पेंड किया; शिकायत लेकर थाने पहुंचे थे नेताजी

फरीदाबादएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
डाबुआ थाना में पुलिस की बदसलूकी का वीडियो बनाने के दौरान कैमरे पर हाथ मारता पुलिसकर्मी। - Dainik Bhaskar
डाबुआ थाना में पुलिस की बदसलूकी का वीडियो बनाने के दौरान कैमरे पर हाथ मारता पुलिसकर्मी।

दिल्ली से सटे फरीदाबाद के डबुआ थाना में चोरी और कार के शीशे तोड़ने की शिकायत दर्ज कराने पहुंचे भाजपा के मंडल अध्यक्ष की थाना में तैनात पुलिसकर्मियों ने पिटाई कर दी। इस मामले ने तूल पकड़ा तो पुलिस कमिश्नर ने मंगलवार को आरोपी हेड कांस्टेबल उदयवीर को लाइन हाजिर कर दिया। मामले की जांच एसीपी मुजेसर को दी गई है।

पुलिस की गुंडागर्दी के खिलाफ कपड़ा कॉलोनी के सैकड़ों लोग लामबंद होकर मंगलवार को पुलिस कमिश्नर आफिस पहुंचे और सीपी से मिलकर उनके साथ पुलिसकर्मियों द्वारा की गई बदसलूकी की शिकायत दर्ज कराई। पुलिस कमिश्नर ने मामले की जांच कराने और दोषी पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्रवाई करने का भरोसा दिया।

कपड़ा कॉलोनी निवासी विनय भाजपा पूर्वांचल प्रकोष्ठ के मंडल अध्यक्ष हैं और शिव मंदिर के प्रधान हैं। रविवार को उनकी कॉलोनी में ही श्री खाटू श्याम का कार्यक्रम था। जिसमें बड़ी संख्या में उनके रिश्तेदार भी शामिल हुए थे। विनय का कहना है कि कॉलोनी में कई गाड़ियां खड़ी थी। कुछ शरारती तत्वों ने शराब पीकर हंगामा किया और गाड़ियों से शीशे तोड़ दिए। बैटरी तक चुरा ले गए।

इस घटना को लेकर विनय अपने छोटे भाई अविनाश और रिश्तेदार आकाश के साथ डबुआ थाने में एफआईआर दर्ज कराने गए थे। उनका आरोप है कि थाने में मौजूद पुलिसकर्मियों ने कानूनी कार्रवाई करने की बजाय समझौता करने का दबाव डाल रहे थे।

दांत तोड़ने का आरोप

पीड़ित विनय का आरोप है कि जब उन्होंने समझौता करने से मना कर दिया तो पुलिसकर्मी उन्हें और रिश्तेदार को धक्के मारकर थाने से बाहर करने लगे। जब उन्होंने पुलिस की इस मनमानी का वीडियो बनाना शुरू किया तो पुलिसकर्मियों ने उनका मोबाइल छीन लिया और थाने के अंदर घसीटकर जमकर पीटा। दांत तक तोड़ दिए। पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह का कहना है कि पुलिस कमिश्नर ने डबुआ थाने में तैनात हेड कांस्टेबल उदयवीर को लाइन हाजिर कर दिया है।

खबरें और भी हैं...