दादरी में DAP खाद न मिलने पर हंगामा:किसानों ने मंडी के गेट पर जड़ा ताला; निर्दलीय विधायक सांगवान पहुंचे किसानों के बीच

रेवाड़ी/दादरीएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
दादरी में हंगामा करते हुए किसान। - Dainik Bhaskar
दादरी में हंगामा करते हुए किसान।

हरियाणा में डीएपी की किल्लत के चलते किसानों का रोष बढ़ता जा रहा है। पिछले कई दिनों से परेशान दादरी के किसानों ने मंगलवार को पुरानी अनाज मंडी के मुख्य गेट पर ताला लगा दिया। इस दौरान किसानों ने जमकर नारेबाजी की। सूचना के बाद दादरी से निर्दलीय विधायक सोमबीर सांगवान भी किसानों को समर्थन देने पहुंचे। कुछ देर बाद किसानों के एक प्रतिनिधि मंडल ने विधायक के के नेतृत्व में डीसी प्रदीप गोदारा से मुलाकात की। डीसी ने आश्वासन दिया कि बुधवार तक दादरी में पर्याप्त डीएपी खाद पहुंचने की संभावना है।
मिली जानकारी के अनुसार मंगलवार अलसुबह से ही सैकड़ों किसान डीएपी के लिए दादरी अनाज मंडी स्थित सरकारी दुकान के सामने लाइनों में लग गए। महिलाओं व लड़कियां भी खाद के लिए घंटों तक लाइनों में लगी रही। लेकिन घंटों बाद पता चला कि खाद नहीं पहुंची है तो किसानों के सब्र का बांध टूट गया। उन्होंने अनाज मंडी के मुख्य गेट पर ताला जड़ दिया। किसानों ने सरकार व प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।
विधायक बोले; दादरी में डीएपी की कमी
विधायक सोमबीर सांगवान ने कहा कि दादरी जिला में डीएपी की भारी कमी है। पिछले 15 दिनों से किसानों डीएपी के लिए दर-दर की ठोकरें खा रहे हैं। सरकार पर्याप्त खाद किसानों को उपलब्ध करवाने में पूरी तरह विफल साबित हो रही है। उन्होंने कहा कि शर्म की बात है कि बहन -बेटियों को खाद के लिए लाइनों में लगना पड़ रहा है। किसानों ने कहा कि सरसों की बिजाई का समय आ चुका है। मगर डीएपी नहीं मिलने के कारण बिजाई नहीं हो पा रही। सुबह 4 बजे लाइनों में लग जाते हैं, मगर सुबह 10 बजे कर्मचारी खाद नहीं होने की बात कहकर अपना पल्ला झाड़ लेते हैं। इसके बाद एक प्रतिनिधि मंडल ने उपायुक्त प्रदीप गोदारा से मुलाकात की। उपायुक्त ने आश्वासन दिया कि जल्द ही दादरी में डीएपी पहुंचने की संभावना है, उसके बाद किसानों को आसानी से डीएपी उपलब्ध हो जाएगी।

खबरें और भी हैं...