• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Rohtak
  • Rewari
  • Give Way To The Ambulance So That The Patient Reached PGI On Time, His Life Was Saved, He Was In Danger Due To Head Injury Due To Injury.

चिकित्सकीय सहायता:एंबुलेंस को इसलिए दें रास्ता समय पर पीजीआई पहुंचा मरीज तो बच गई जान, चोट से हेड इंजरी हुई तो खतरे में पड़ गई थी

रेवाड़ीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

घायल को यदि समय पर चिकित्सकीय मदद मिल जाए तो उसका जीवन बचाया जा सकता है। इसके लिए जरूरी है कि एंबुलेंस का रास्ता दें। ऐसा ही उदाहरण सोमवार को सामने आया। जिला के नाहड़ क्षेत्र के गांव गढ़ी निवासी 28 वर्षीय विष्णु पुत्र सूरजभान अपनी बाइक से लुखी से अपने गांव जा रहा था। अचानक बाइक के अनियंत्रित होने से वह दुर्घटनाग्रस्त हो गए।

हादसे में विष्णु के सिर में गंभीर चोट से उन्हें हैड इंजरी हो गई। परिवार के सदस्य तत्काल उसे ट्रामा सेंटर में लेकर पहुंचे। गम्भीर चोट और हालत को देखते हुए उन्हें तत्काल पीजीआई रोहतक के लिए रेफर कर दिया गया। रेवाड़ी से रोहतक के लिए रेफर करते समय घायल विष्णु की हालत बहुत ही ज्यादा सीरियस हो चुकी थी।

आईवी कैनुला के ग्लूकोस सपोर्ट और ऑक्सीजन के सहारे तुरन्त रोहतक पहुंचाना आवश्यक था। चिकित्सकों ने सरकारी एम्बुलेंस के चालक जेपी पंडित और पैरा मेडिकल स्टाफ ईएमटी विनोद कुमार को मरीज को लेकर रोहतक भेजा।

चालक ने बताया कि जाम नहीं मिलने के चलते यहां से 6 बजे रवाना होने के बाद 7 बजकर 8 मिनट पर मरीज को पीजीआई पहुंचा दिया था और इससे उसकी जान बच गई। घायल के ताऊ के बेटे रणवीर ने बताया कि समय पर पहुंचने से उसे इलाज मिल गया जिससे उसकी जान बच गई और अभी वह उपचाराधीन है।

खबरें और भी हैं...