रेवाड़ी में रात से झमाझम बारिश:सुबह 9 बजे तक पूरे जिले में 20MM बारिश; सबसे ज्यादा बावल में 76MM बारिश हुई, कल भी खराब रहेगा मौसम

रेवाड़ी14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
रेवाड़ी शहर के भाड़ावास गेट पर भरा बरसाती पानी। - Dainik Bhaskar
रेवाड़ी शहर के भाड़ावास गेट पर भरा बरसाती पानी।

हरियाणा के रेवाड़ी में रात से ही झमझम बारिश हो रही हैं। पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से रात 2 बजे शुरू हुई बारिश सुबह 7 बजे तक रूक-रूक कर होती रही। बूंदाबांदी का सिलसिला रविवार को भी जारी रह सकता हैं। बरसात की वजह से शहर में कई जगह जलभराव हो गया है, जिसके चलते आम लोगों को परेशानी झेलनी पड़ रही हैं। वहीं दक्षिणी हरियाणा के खेतों में खड़ी गेहूं और सरसों की फसल के लिए बरसात को अच्छा बताया गया हैं। पूरे जिले में सुबह 9 बजे तक 20 एमएम बारिश हुई हैं।

बता दें कि शुक्रवार को ही मौसम बदल चुका था। पूरे दिन सूर्यदेव के दर्शन नहीं हुए। आसपास के कुछ इलाकों में बारिश की बूंदों के छीटें भी पड़े, लेकिन रात 2 बजे मौसम पूरी तरह बदल गया और बादलों की गर्जना के साथ बरसात शुरू हुए। करीब एक घंटे तक जोरदार बारिश हुई। उसके बाद सुबह 7 बजे तक कभी तेज तो कभी धीमी बारिश होती रही। एक घंटे तक बारिश रूकी रही। 8 बजे बाद से फिर से बूंदबांदी चालू हैं। मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार आज पूरे दिन बूंदाबांदी जारी रह सकती हैं। साथ ही रविवार को भी मौसम खराब रहेगा। शनिवार को न्यूनतम तापमान 14.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया हैं।

बारिश के बीच छाता लेकर गुजरता व्यक्ति।
बारिश के बीच छाता लेकर गुजरता व्यक्ति।

बावल में 76 MM बारिश
देर रात से ही पूरे जिले में बारिश हो रही हैं। सबसे ज्यादा बावल रेवाड़ी और बावल में हुई हैं। रेवाड़ी में 30 एमएम तो बावल में 76 एमएम बारिश दर्ज की गई हैं। पूरे जिले की बात करें तो यह आंकड़ा 20 एमएम है। वहीं रेवाड़ी के ही दो बड़े कस्बे कोसली और धारूहेड़ा में भी रूक-रूक कर बारिश हो रही हैं। दक्षिणी हरियाणा में तेज बारिश के साथ ओलवृष्टि की भी संभावना जताई गई हैं। हालांकि तेज बारिश तो जरूर हुई है, लेकिन अभी तक किसी क्षेत्र में ओलावृष्टि नहीं हुई। बरसात फसलों के लिए फायदेमंद है। अगर ओलावृष्टि हुई तो किसानों को बड़ा नुकसान झेलना पड़ सकता हैं।

सड़कों पर पानी-पानी
5 घंटे से भी ज्यादा समय से जारी बारिश के कारण शहर की कई सड़कों पर जलभराव हो गया हैं। शहर के पॉश इलाके मॉडल टाउन, ब्रास मार्केट, सेक्टर-3 और 4 जैसे एरिया में सड़कों पर बरसाती पानी जमा हो गया हैं। शहर के निचले इलाकों में हालात और भी खराब है। नई आबादी, कुतुबपुर जैसे एरिया में गलियों में बरसाती पानी जमा हो गया हैं, जिससे वहां रहने वाले लोगों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ा।