पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

वैक्सीनेशन:रजिस्ट्रेशन में नाम-उम्र जैसी त्रुटि है तो ठीक करने के लिए सिर्फ दो दिन का समय, फिर नहीं होगा करेक्शन

रेवाड़ीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
टीकाकरण के लिए रजिस्ट्रेशन करते लोग। - Dainik Bhaskar
टीकाकरण के लिए रजिस्ट्रेशन करते लोग।
  • 18 प्लस में अब तक 63973 को पहली डोज लगी, दूसरी डोज 580 को लग चुकी
  • जिले में अब तक लग चुके 264712 टीके, इनमें 222782 को लगी पहली डोज

वैक्सीनेशन के लिए रजिस्ट्रेशन करते समय यदि को त्रुटि रह गई है तो इसे ठीक करने के लिए आपके पास सिर्फ 2 इन का समय है। विभाग ने इसके लिए निर्देश जारी किए हैं। नाम, उम्र या अन्य कोई गलती है तो वह केवल 20 जून तक ही ठीक हो सकती है। दो दिन में कोविन पोर्टल पर जाकर खुद ही गलती दुरुस्त कर सकते हैं। इसके बाद करेक्शन ठीक करने का विकल्प नहीं मिल पाएगा।

जिले में कोरोना टीकाकरण शुरू हुए 154 दिन हो गए। अब तक जिला के केंद्रों पर हुए टीकाकरण का आंकड़ा देखें तो जिलेभर में सिविल अस्पताल में सर्वाधिक 27258 टीके लगाए गए। जिले में वैक्सीनेशन में शहर का सिविल अस्पताल अव्वल है। यहां हर दिन औसत 177 वैक्सीन लगाई गई।

इसी तरह सीएचसी लेवल पर सर्वाधिक वैक्सीन बावल में लगी। यहां 12834 टीके लगाए गए। जबकि पीएचसी में शहर की यूपीएचसी कुतुबपुर में सबसे ज्यादा 14083 लोगों को डोज दी गई। इधर, शुक्रवार को जिले में 18 से 44 को 12 केंद्रों पर 2042 को पहली डोज, 84 को दूसरी डोज लगाई गई। इसी तरह कुल 3407 लोगों को डोज दी गई।

जिले में अब तक 2 लाख 64 हजार 712 डोज लग चुकी हैं। जिसमें 222782 को पहली डोज लगी और 41930 ने कोरोना से बचाव के लिए दूसरी डोज लगवाकर सुरक्षा चक्र पूरा किया। इसके अलावा लोगों को कोरोना से बचाव के लिए जागरूक किया जा रहा है। साथ ही कोरोना गाइड लाइन का पालन करने की सलाह दी जा रही है। सलाह दी जा रही है कि घर से बाहर निकलें तो मास्क लगाकर ही निकलें।

कोरोना से बचाव के लिए दूसरी डोज लगवाना न भूलें

​​​​​​​डीआईओ डॉ. अशोक कुमार ने बताया कि जिन लोगों ने पहली डोज लगवा ली है तो वह दूसरी डोज लगवाना न भूलें, क्योंकि दूसरी वैक्सीन के बिना इम्यूनिटी नहीं बन पाएगी। लोगों को कोरोना से बचाव के लिए भी गाइडलाइन का अनुसरण करना चाहिए। बाहर अनावश्यक नहीं घूमें, अगर जरूरी है तो मास्क लगाकर जाएं और भीड़भाड़ में जाने से बचना चाहिए।​​​​​​​

खबरें और भी हैं...