शिलान्यास:सिविल अस्पताल में लगे 1000 एलपीएम क्षमता के ऑक्सीजन प्लांट का लोकार्पण

रेवाड़ी12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
लोकार्पण के मौके पर सहकारिता मंत्री, डीसी, चेयरपर्सन व अन्य। - Dainik Bhaskar
लोकार्पण के मौके पर सहकारिता मंत्री, डीसी, चेयरपर्सन व अन्य।
  • सहकारिता मंत्री बोले - जिला ऑक्सीजन में बन रहा आत्मनिर्भर

रेवाड़ी के सिविल अस्पताल में बनाए गए 1000 एलपीएम (लीटर प्रति मिनट) के ऑक्सीजन प्लांट का शुभारंभ गुरुवार को हो गया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने उत्तराखंड से वर्चुअल माध्यम से रेवाड़ी समेत देशभर के मेडिकल कॉलेजों व अस्पतालों में स्थापित करीब 35 ऑक्सीजन प्लांट का लोकार्पण किया। इस प्लांट का निर्माण पीएम केयर फंड से किया गया है।

केंद्रीय राज्यमंत्री राव इंद्रजीत सिंह वर्चुअल माध्यम से इस कार्यक्रम से जुड़े। जबकि सहकारिता मंत्री डॉ. बनवारी लाल ने कार्यक्रम में शिरकत की। पीएम के कार्यक्रम का उत्तराखंड से लाइव प्रसारण भी किया गया। सहकारिता मंत्री ने कहा कि जिला रेवाड़ी ऑक्सीजन मामले में धीरे-धीरे आत्मनिर्भरता की ओर बढ़ रहा है।

जिला रेवाड़ी में 500 एलपीएम तथा कोसली व बावल में 250-250 एलपीएम क्षमता के ऑक्सीजन प्लांट पहले स्थापित किए जा चुके हैं। सहकारिता मंत्री ने कहा कि कोरोना की तीसरी लहर से निपटने के लिए रेवाड़ी जिला तैयार व सक्षम है।

सहकारिता मंत्री ने कहा कि कोरोना की संभावित तीसरी लहर से निपटने के लिए केन्द्र व राज्य सरकार के साथ-साथ जिला प्रशासन भी तैयारियों में जुटा हुआ है, ताकि परेशानियों का सामना न करना पड़े। इस अवसर पर भाजपा जिलाध्यक्ष मास्टर हुकमचंद, जजपा जिलाध्यक्ष श्यामसुंदर सभरवाल, चैयरपर्सन पूनम यादव, शशि बाला, जिला प्रशासन की ओर से उपायुक्त यशेन्द्र सिंह, एसडीएम रविंद्र यादव, पीएमओ डाॅ. सुशील माही, उप सिविल सर्जन डाॅ. विजय प्रकाश, डाॅ. अशोक कुमार सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।

जिले में अब 4 सरकारी ऑक्सीजन प्लांट

जिला के 4 राजकीय अस्पतालों में 40 एमटी ऑक्सीजन के प्लांट कार्य कर रहे हैं। इसके अलावा सरकारी अस्पताल में लिक्विड ऑक्सीजन स्टोरेज क्षमता 6.5 एमटी है। जिले में सरकारी अस्पतालों में इस समय 33 वेंटिलेटर, 392 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, 111 बाईपेप्स, ऑक्सीजन सिलेंडर 435-बी टाईप, ऑक्सीजन सिलेंडर 254-डी टाईप की सुविधा उपलब्ध है।

खबरें और भी हैं...