शताब्दी में बम की सूचना पर हड़कंप:रेवाड़ी में डायल 112 पर कॉल करके बताया; गुरुग्राम में ट्रेन रोककर की गई जांच; झूठी निकली जानकारी

रेवाड़ी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

अहमदाबाद से दिल्ली के बीच चलने वाली शताब्दी एक्सप्रेस में बम रखा होने की सूचना मिलते के बाद हड़कंप मच गया। RPF, GRP के अलावा लोकल पुलिस ने ट्रेन की लोकेशन पता करके गुरुग्राम में ट्रेन को रुकवाया और तलाशी ली, लेकिन बम नहीं मिला। इसके अलावा रेवाड़ी जंक्शन पर भी गहनता से सर्च ऑपरेशन चलाया गया। अब पुलिस कंट्रोल रूम पर बम की सूचना देने वाले युवक की तलाश कर रही है।

मिली जानकारी के अनुसार, अहमदाबाद से दिल्ली के बीच चलने वाली शताब्दी एक्सप्रेस ट्रेन रेवाड़ी जंक्शन पर 8 बजकर 55 मिनट पर पहुंचती है। रात साढ़े 9 बजे रेवाड़ी पुलिस कंट्रोल रूम नंबर डायल 112 पर किसी ने सूचना दी कि उसने शताब्दी एक्सप्रेस ट्रेन में बम रख दिया है। सूचना मिलते ही रेवाड़ी डीएसपी मोहम्मद जमाल खान व अन्य पुलिस अधिकारी तुरंत रेलवे स्टेशन पर पहुंचे और आरपीएफ व जीआरपी को जानकारी दी।

उसके बाद ट्रेन की लोकेशन पता की गई तो पता चला कि चंद मिनट बाद ट्रेन गुरुग्राम स्टेशन पर पहुंचने वाली है। गुरुग्राम आरपीएफ को सूचित करके ट्रेन को रुकवाया गया और फिर डॉग स्कवॉड और बम निरोधक दस्ते ने आधे घंटे तक पूरी ट्रेन की तलाशी ली। इधर रेवाड़ी जंक्शन पर भी पुलिस अधिकारी और डॉग स्कवॉड की टीम ने पूरे स्टेशन पर सर्च अभियान चलाया। लेकिन बम जैसी कोई चीज नहीं मिली। ट्रेन को रवाना कर दिया गया।

गुरुग्राम स्टेशन पर ट्रेन को रोक कर तलाशी लेते हुए।
गुरुग्राम स्टेशन पर ट्रेन को रोक कर तलाशी लेते हुए।

पुलिस झूठी सूचना देने वाले की तलाश में जुटी

शताब्दी एक्सप्रेस में काफी यात्री सवार थे। ट्रेन को अचानक गुरुग्राम स्टेशन पर रुकवाकर यात्रियों को नीचे उतारा गया, जिससे यात्रियों में भी दहशत पैदा हो गई। इधर रेवाड़ी जंक्शन पर अचानक सुरक्षाबलों की संख्या बढ़ने से यहां भी यात्रियों में टेंशन बढ़ गई। देर रात तक पुलिस ने रेवाड़ी जंक्शन की गहनता से जांच की। अब पुलिस ने उस नंबर की लोकेशन निकाली है, जिससे कंट्रोल रूम पर सूचना दी गई। अभी आरोपी का पता नहीं चल पाया है।

कुछ दिन पहले मिली थी धमकी

कुछ दिन पहले ही हरियाणा के कई रेलवे स्टेशनों को उड़ाने की धमकी आतंकी संगठन की तरफ से दी गई थी। अंबाला स्टेशन प्रभारी को धमकी भरा पत्र मिला था, जिसमें रेवाड़ी जंक्शन का भी जिक्र किया गया था। उसके बाद से ही रेवाड़ी जंक्शन पर सुरक्षा बढ़ा दी गई थी। लेकिन देर रात अचानक बम की सूचना के बाद पुलिस के भी पसीने छूट गए। बता दें कि करीब 7 साल पहले रेवाड़ी जंक्शन पर बम मिल चुका है।

खबरें और भी हैं...