गुरुग्राम में दिवाली पूजन पर फायरिंग:घायल सोनू सिंह ने भी तोड़ा दम; गांव कासन में 6 लोगों को मारी थी गोली, आरोपी फरार

रेवाड़ी/गुरुग्रामएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

दिल्ली से सटे हरियाणा के गुरुग्राम स्थित गांव कासन में दिवाली की रात हुई फायरिंग में घायल 6 लोगों में शामिल सोनू सिंह ने भी दम तोड़ दिया। इससे पहले विकास सिंह की मौके पर ही मौत हो गई थी। तीसरे घायल प्रवीण की हालत अब भी गंभीर बनी हुई है। तीन अन्य घायलों की हालत अब ठीक बताई गई है।

मामला पुरानी रंजिश से जुड़ा बताया जा रहा है। वारदात को अंजाम देने वाले बदमाश अभी तक पकड़े नहीं गए है। मानेसर IMT थाना पुलिस के अलावा क्राइम ब्रांच की टीमें लगातार छापेमारी कर रही है। दरअसल, गांव कासन के पूर्व सरपंच स्वर्गीय गोपाल सिंह घर के घर दीपावली की रात उस वक्त ताबड़तोड़ फायरिंग की गई, जब परिवार के सदस्य दिवाली की पूजा कर रहे थे। फायरिंग में बलराम सिंह चौहान, सोनू सिंह चौहान, रिश्तेदार राजेश सिंह, विकास सिंह और प्रवीण सिंह के अलावा बलराम के 8 साल के बेटे यश को गोली लगी थी।

बदमाशों के सामने डटकर खड़े हुए राजेश के इकलौते बेटे 21 वर्षीय विकास सिंह को 16 गोलियां मारी गईं, इसकी वजह से उसकी मौके पर ही मौत हो गई। 2 गोली लगने से घायल 38 साल के सोनू सिंह ने बीती शाम उपचार के दौरान अस्पताल में दम तोड़ दिया। वहीं प्रवीण की हालत अब भी गंभीर बनी हुई है। राजेश, बलराम व यश की हालत ठीक बताई गई है।

गोली चलने के बाद घर के आंगन में जांच करती पुलिस टीम। (फाइल फोटो)
गोली चलने के बाद घर के आंगन में जांच करती पुलिस टीम। (फाइल फोटो)

रिंकू और उसके साथियों की तलाश जारी

इस हत्याकांड का शक गांव के ही रहने वाले बदमाश रिंकू पर जताया गया है। रिंकू ने मनीष सहित अपने कई साथियों के साथ मिलकर यह वारदात की। बता दें कि रिंकू के भाई मनोज की वर्ष 2007 में गोली लगने से मौत हुई थी। रिंकू अपने भाई की मौत के लिए बलराम सिंह चौहान एवं सोनू सिंह चौहान को जिम्मेदार मान रहा है। इस मामले में दोनों भाइयों के साथ ही गांव खोह निवासी वेद को कोर्ट ने उम्रकैद की सजा दी थी। दोनों भाई जेल से छुट्‌टी पर आए हुए थे। बताया जा रहा है कि कुछ समय पहले भी दोनों परिवारों के बीच झड़प हो चुकी थी।

बदमाशों की धरपकड़ जारी
सहायक पुलिस आयुक्त (क्राइम) प्रीतपाल ने बताया कि IMT मानेसर थाना पुलिस के अलावा क्राइम ब्रांच की 5 टीमों को बदमाशों की धरपकड़ ले लिए लगाया गया है। पुलिस टीमें लगातार दबिश दे रही है। जल्द ही आरोपी सलाखों के पीछे होंगे।