कार्रवाई:गुड़गांव के यात्रियों को धारूहेड़ा में उतारने पर जीएम द्वारा डीटीओ को भेजा गया पत्र

रेवाड़ी4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • बस स्टैंड के बाहर से चलने वाली सोसायटी और निजी बस गुड़गांव जाने की बात कह बैठाते हैं सवारी

शहर के बस स्टैंड और बाहर से संचालित होने वाली धारूहेड़ा तक की बसों के चालक-परिचालकों द्वारा गुड़गांव के यात्रियों को बैठाकर धारूहेड़ा में उतारने के मामले में डीटीओ तक शिकायत पहुंच गई है। इस संबंध में एक यात्री ने रोडवेज महाप्रबंधक को शिकायत भेजकर कार्रवाई की मांग की है। महाप्रबंधक ने मूल: शिकायत के साथ जिला परिवहन अधिकारी को कार्रवाई करने के अनुरोध साथ भेज दिया है।

बस स्टैंड एवं बाहर से चलने वाले सोसायटी और निजी बसों के ऑपरेटर गुड़गांव और दिल्ली तक जाने वाले यात्रियों को गुड़गांव जाने की बात कहते हुए बैठा लेते हैं। खासतौर से चालक-परिचालक बाहर के श्रमिकों को तो जबरन बैठा लेते हैं और वह बाहर के होने की वजह से अक्सर शिकायत भी नहीं करते हैं। देखने में आया है कि इन बसों के ऑपरेटर धारूहेड़ा पहुंचने के बाद यात्रियों को आगे की बस पकड़ने की सलाह देते हुए उतार देते हैं और ऐसे में यात्री अधिक विरोध भी नहीं कर पाते हैं।

ऐसे में ही एक मामले में प्राइवेट बस के ऑपरेटर ने गुड़गांव जाने की बात कहते हुए एक यात्री को बैठाकर धारूहेड़ा में उतार दिया। इसकी वजह से यात्री को हुई परेशानी के बाद उन्होंने इसकी शिकायत जीएम रोडवेज को ही है। जीएम की तरफ से यह शिकायत डीटीओ को भेजते हुए सोसायटी और निजी बस ऑपरेटरों की तरफ से यात्रियों के साथ किए जा रहे इस कदम से होने वाली परेशानी को देखते हुए कार्रवाई का अनुरोध किया गया है।

खबरें और भी हैं...