पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

राहत भरी रियायत:बाजारों की छूट का दायरा बढ़ा, शाम 5 की बजाय 6 बजे तक खुलेंगे, कल से रोज 50% दुकानें खोलने की तैयारी

रेवाड़ी8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • 2-3 दुकानदारों की गलती से पूरा गुड़ बाजार सील करना पड़ा, फिलहाल यहां छूट भी नहीं
  • कंटेनमेंट जोन छोटे करने की भी पूरी तरह प्लानिंग तैयार, अब किया जाएगा दायरा कम

बाजारों को छूट देने की तैयारी कर रहे जिला प्रशासन ने अपनी प्लानिंग पर अब अमल शुरू कर दिया है। रियायत के साथ पहली राहत प्रशासन ने बाजार खोलने के समय को बढ़ा कर दी है। अब शाम 6 बजे तक बाजार खोले जा सकेंगे। ये आदेश छूट शनिवार से ही दुकानदारों को दे दी गई। वहीं अब बाजार में ज्यादा दुकानें खुल सकें, इसकी भी लगभग तैयारी हो चुकी है।

सोमवार को दुकानें खोलने की नई गाइडलाइन जारी हो जाएगी। इसमें छूट का दायरा बढ़ाया जाएगा। इसके बाद वर्तमान में खुल रही 33% दुकानों की बजाय हर रोज 50% दुकानें खुल पाएंगी। हालांकि बाकी बाजारों को तो छूट मिलने जा रही है, मगर गुड बाजार अभी सील है। यहां कुछ व्यापारियों की गलती का खामियाजा पूरे बाजार को भुगतना पड़ सकता है। ये भी संभव है कि प्रशासन अभी कुछ दिन इस बाजार को सील ही रखे। डीसी से मिलने पहुंचे व्यापारी प्रशासन ने व्यापारियों को छूट देने के लिए बुधवार को बैठक बुलाई थी। एडीसी राहुल हुड्डा की अध्यक्षता में हुई बैठक के दौरान संगठनों ने कई तरह के सुझाव रखे थे। व्यापारी चाह रहे थे कि बाजार शाम 6 बजे तक तो खुले। इसके अलावा ज्यादा से ज्यादा दुकानों को खुलने का मौका मिले। प्रशासन ने भी इसी प्लानिंग को अमल में लाने की बात कही थी, मगर बैठक के अगले ही दिन गुरुवार को प्रशासन की गाइडलाइन में रियायत नहीं मिली। शनिवार को कुछ व्यापारी डीसी से मिलने पहुंचे। अब प्रशासन ने एहतियात की शर्तों के साथ छूट देने का निर्णय लिया है।

दो प्लानिंग... एक दिन एक तरफ की दुकानें खाेलने और ऑड-ईवन फॉर्मूला लागू करने पर विचार

18 मई को लॉकडाउन-4.0 की शुरूआत के साथ सरकार ने कई तरह की छूट देने की घोषणा की है, ताकि पूरी व्यवस्था को पटरी पर लाया जा सके। बाजारों को भी पहले से ज्यादा छूट दिए जाने की तैयारी है। इसके लिए जिला प्रशासन प्लानिंग पर काम कर रहा है। अभी तक वन, टू, थ्री के फॉर्मूले से दुकानें खुल रही हैं। रविवार को बाजार पूरी तरह बंद रहता है, जबकि बाकी हर दिन 1, 2 या 3 नंबर में से तय शेड्यूल के अनुसार किसी भी एक नंबर की दुकानें खुलती हैं। यानी हर एक दुकान के बाद दो दुकानें बंद रहती हैं। लिहाजा बाजार सिर्फ 33% ही खुल रहे हैं। अब हर दिन कम से कम 50% दुकानें खोलने की छूट दी जाएगी। इसके लिए प्रशासन ऑड-इवन फॉर्मूले के साथ ही एक दिन एक तरफ की तथा दूसरे दिन दूसरी तरफ की दुकानें खोलने की अनुमति देने पर विचार कर रहा है। इनमें से कौन सा फॉर्मूला लागू होने जा रहा है, ये सोमवार 25 मई को ही स्पष्ट हो पाएगा।

गुड़ बाजार... पुलिस ने रस्से बांधकर रोकी एंट्री

बाजार में दुकानों के बाहर दुकानदारों द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का पालन नहीं कराने की शिकायतें प्रशासन के पास पहुंच रही थी। प्रशासन ने जांच में पाया कि बिना फेस मास्क पहने ग्राहकों को दुकानदार समान बेच रहे हैं। दुकानों के सामने भीड़ लगी हुई है, सोशल डिस्टेसिंग की अवहेलना हो रही है। दुकान के बाहर सामाजिक दूरी के लिए सर्कल नहीं बनाए हुए हैं। रिपोर्ट के बाद प्रशासन ने गुड बाजार को बंद करा दिया। शनिवार को पुलिस तैनात कर दी गई। पुलिस ने बाजार के प्रवेश पर रस्से बांधकर एंट्री ही रोक दी, ताकि दुकानदार दुकानें न खोल सकें।

कंटेनमेंट जोन... एक एरिया में ही सिमटेंगे

जिस भी जगह कोरोना पॉजिटिव केस आता है तो वहां कंटेनमेंट जोन बना दिया जाता है। इसके बाद आवागमन और वहां की गतिविधियों पर रोक लग जाती है। इस समय एक गांव में केस आता है तो कई गांवों को शामिल किया जाता है। एक-दो दिन में ही इन जोन को भी छोटा किया जाएगा। इसकी रिपोर्ट तैयार हो चुकी है।

नई गाइडलाइन कल की जाएंगी जारी : उपायुक्त

^बाज़ार खोलने को लेकर नई गाइडलाइन सोमवार को जारी की जाएगी। दुकानदार कोरोना की रोकथाम के लिए दो गज की दूरी बनाए रखें व फेस मास्क पहनें। प्रशासन सोमवार से दुकानदारों को और ज्यादा छूट देने को तैयार। इसमें दुकानदार व ग्राहक करें सहयोग। सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क के नियमों का पालन नहीं करने के चलते गुड बाजार को बंद किया गया है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कई प्रकार की गतिविधियां में व्यस्तता रहेगी। साथ ही सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा। आप किसी विशेष प्रयोजन को हासिल करने में समर्थ रहेंगे। तथा लोग आपकी योग्यता के कायल हो जाएंगे। कोई रुकी हुई पेमेंट...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser