पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

एक शादी ऐसी भी:आगजनी से पीड़ित लुहारों के बच्चे का पुलिस सुरक्षा में संपन्न हुआ विवाह

रेवाड़ीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • विवाह में लुहारों के रीति रिवाज के अनुसार लड़का पक्ष ने लड़की पक्ष को एक गाडा दिया

पिछले 3 महीने से पुलिस सुरक्षा में रह रहे लुहारों के परिवार ने अपने पुत्र अभेय का विवाह उमा पुत्री स्वर्गीय महाबीर निवासी गजिकाथाना अलवर राजस्थान के साथ हुई। इसमें परिवार की सहायता के लिए कैलाश चंद अधिवक्ता ने प्रशासन से सहयोग करने की प्रार्थना लगवाई ओर अन्य से भी सहयोग करवाया।

गांव की सरपंच सुनीता देवी ने भी पीड़ित परिवार का सहयोग किया व अन्य सामाजिक लोगों से सहयोग करवाया। विवाह में लुहारों के रीति रिवाज के अनुसार लड़का पक्ष ने लड़की पक्ष को एक गाड़ा दिया ओर कपड़ा बर्तन व अन्य सामग्री लड़की पक्ष को दी गई और एक विशेष रीति जो वर्षों से चली आ रही है कि दूल्हा एक वर्ष तक दुल्हन के निवास पर रहेगा। एक वर्ष बाद लड़का दुल्हन को लेकर अपने माता-पिता के पास वापिस आएगा।

बता दें कि तीन माह पहले गांव बॉम्बड में लुहार परिवार वर्षों से रहते हैं। कुछ लोगों ने मिलकर लुहारों के गाड़े जला दिए थे। इस आगजनी में लुहारों के गाड़े के साथ साथ उनका सारा सामान, बिस्तर व कपड़े खाने पीने का सामान जला दिए।

इसके बाद समाज के कुछ लोग पीड़ित परिवार की सहायता हेतु आगे आये और उनकी शिकायत प्रशासन तक पहुंचाने में मदद की और कैलाश चंद अधिवक्ता द्वारा परिवार की समस्या बारे शिकायत उच्च अधिकारियो तक पहुचाई।

इस घटना की पहले शिकायत तक दर्ज नहीं हो पाई। जिस पर अधिवक्ता ने घटना की पूरी जानकारी उच्च अधिकारियों व मानवाधिकार आयोग चंडीगढ़ कार्यालय तक पहुंचाई। समाज की मदद से प्रशासन भी सुरक्षा देने को मजबूर हुए और घटना से अब तक रात दिन पुलिस की सुरक्षा दी जा रही है। पुलिस सुरक्षा होते हुए भी कई बार अनजान लोगों द्वारा लुहारों पर पत्थर फेंकने की बात सामने आई है। विवाह समारोह में दूल्हे का पिता अमर सिंह, दूल्हे की पत्नी छटकी उर्फ मणि, भाई सुनील, कालिया, आकाश, आज़ाद, बिल्लु, बाबूलाल, सामाजिक कार्यकर्ता अभय यादव व अन्य शामिल रहे।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- घर-परिवार से संबंधित कार्यों में व्यस्तता बनी रहेगी। तथा आप अपने बुद्धि चातुर्य द्वारा महत्वपूर्ण कार्यों को संपन्न करने में सक्षम भी रहेंगे। आध्यात्मिक तथा ज्ञानवर्धक साहित्य को पढ़ने में भी ...

और पढ़ें