गुरुग्राम में दिवाली पूजन कर रहे लोगों पर फायरिंग:पूर्व सरपंच के घर हमला; एक की मौके पर मौत, पटाखों के शोर में दब गई गोलियों की आ‌वाज

रेवाड़ी3 महीने पहले
इमरजेंसी में पहुंचे घर के अन्य सदस्य।

साइबर सिटी गुरुग्राम के गांव कासन में दीपावली पूजा के दौरान बदमाशों ने पूर्व सरपंच के घर में घुसकर अंधाधुंध फायरिंग कर दी है। इस दौरान परिवार के 6 लोगों को गोली लगी, इनमें से 1 व्यक्ति ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। घायल 5 अन्य को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। वारदात के तुरंत बाद गांव में बड़ी संख्या में पुलिस तैनात की गई है। बदमाशों को पकड़ने के लिए कई टीमें गठित की गईं। मानेसर IMT थाना पुलिस के अलावा क्राइम ब्रांच की 4 टीमें अपराधियों की धरपकड़ के लिए दबिश दे रही हैं।

गोली चलने की वारदात के बाद जांच करने पहुंचे पुलिस अधिकारी।
गोली चलने की वारदात के बाद जांच करने पहुंचे पुलिस अधिकारी।

पुलिस के अनुसार, गांव कासन के पूर्व सरपंच स्व. गोपाल सिंह के परिवार के बलराम सिंह, सोनू सिंह, रिश्तेदार राजेश सिंह, विकास सिंह, हर्ष सिंह गुरुवार रात 8 बजे दीपावली पर मां लक्ष्मी की पूजा कर रहे थे। उस समय 8 साल का यश भी वहां मौजूद था। इसी दौरान 2-3 बाइक पर आए हथियारों से लैस 6 बदमाश अचानक घर में दाखिल हुए। पूजा कर रहे परिवार के लोग कुछ समझ पाते बदमाशों ने अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी। इससे किसी को भी छिपने तक का मौका नहीं मिला। फायरिंग के दौरान मौके पर मौजूद सभी 6 लोगों को गोली लगी है। अन्य लोग वहां नहीं थे वरना वह भी हमलावरों के निशाने पर आ जाते थे। विकास सिंह (21) ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। यश को गोली छूकर निकल गई और घायलों में सोनू सिंह की हालत गंभीर बनी हुई है।

मौके पर पहुंची पुलिस की जीप
मौके पर पहुंची पुलिस की जीप

पटाखों में दब गई गोलियों की आवाज

वारदात के समय दीपावली पर पटाखों का शोर हो रहा था। इस वजह से पड़ोसियों को भी गोलियां चलने का पता नहीं चला। बदमाशों के भागने के बाद रोने की आवाज आई तो पड़ोसी घर की ओर दौड़े। वारदात के पीछे शक गांव के ही रहने वाले बदमाश रिंकू पर है। रिंकू ने मनीष सहित अपने कई अन्य साथियों की मदद से वारदात को अंजाम दिया। रिंकू के भाई की कई साल पहले गोली लगने से मौत हो गई थी। वह अपने भाई की मौत के लिए पूर्व सरपंच स्व. गोपाल सिंह के बेटों को जिम्मेदार मानता है। तभी से रंजिश रखे हुए है। हालांकि मामले की सच्चाई आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद ही सामने आ सकती है।

गोली चलने के बाद घर के आंगन में जांच करती पुलिस टीम।
गोली चलने के बाद घर के आंगन में जांच करती पुलिस टीम।

मानेसर IMT थाना प्रभारी यशवंत सिंह ने कहा कि बदमाश रिंकू की पूर्व सरपंच स्व. गोपाल सिंह के परिवार से रंजिश है। इससे शक उसी के ऊपर है। पहले भी दोनों परिवार के बीच झड़प हो चुकी है। आरोपियों की गिरफ्तारी को लेकर हमारी टीमें लगातार छापेमारी कर रही है।