पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

डेढ़ साल बाद कष्टों की सुनवाई:ऑक्सीजन होते हुए नहीं दी, मेरे भाई समेत चार ने दम तोड़ा, एफआईआर हो : पीड़ित

रेवाड़ीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कष्ट निवारण समिति की बैठक में अपनी पीड़ा व्यक्त करते निहाल सिंह। - Dainik Bhaskar
कष्ट निवारण समिति की बैठक में अपनी पीड़ा व्यक्त करते निहाल सिंह।
  • दिसंबर 2019 में हुई पिछली मीटिंग के 18 और 10 नए परिवाद रखे गए
  • शिक्षा विभाग, पंचायत, तहसील सहित कई विभागों की शिकायतें पहुंची
  • काम में ढिलाई पर मंत्री ने कई अधिकारियों को फटकार भी लगाई

डेढ़ साल बाद आखिर जिला लोक संपर्क एवं कष्ट निवारण समिति की बैठकें एक बार फिर से शुरू हो गई हैं। आखिर बैठक 30 दिसंबर 2019 को हुई थी, मगर इसके बाद कोरोना के प्रकोप के चलते इस तरह दरबार लगाकर सुनवाई नहीं हो सकी थी। शुक्रवार को सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री ओम प्रकाश यादव की अध्यक्षता में बाल भवन में बैठक के दौरान लोगों की समस्याएं सुनी। विधायक लक्ष्मण यादव व डीसी यशेंद्र सिंह समेत पूरा प्रशासनिक अमला सुनवाई के लिए मौजूद रहा।

शहर के विराट अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी से हुई 4 मरीजों की मौत का मामला भी उठा। एक मृतक के भाई ने अपनी पीड़ा व्यक्त करते हुए तुरंत एफआईआर कर कार्रवाई की मांग की। राज्यमंत्री ओमप्रकाश ने एडीसी को निर्देश दिए कि इस मामले में 15 दिन के अंदर जांच पूरी कर रिपोर्ट सौंपें। जांच में पीड़ित परिवारों को भी शामिल करें।

वहीं सुमाखेड़ा स्कूल के भवन और स्टाफ को लेकर शिक्षा विभाग के सुस्त रवैये का भी मामला उठा, जिसमें मंत्री ने अधिकारियों को सख्त लहजे में निर्देश दिए। मंत्री ने पिछली बैठक के लंबित 18 मामलों के साथ 10 नए परिवादों की सुनवाई की। पिछली बैठक को लंबा समय बीत जाने के चलते उनमें ज्यादातर का समाधान पहले ही हो चुका है।

डीसी यशेन्द्र सिंह ने मंत्री ओमप्रकाश यादव को आश्वस्त करते हुए कहा कि इस मासिक बैठक में जो भी दिशा-निर्देश दिए गए हैं, उन पर तुंरत कार्यवाही अमल में लाई जाएगी। संबंधित विभागों द्वारा उन शिकायतों का निवारण प्राथमिकता के आधार पर कराया जाएगा।

इस मौके पर पूर्व मंत्री विक्रम सिंह यादव, जिला भाजपा अध्यक्ष हुकुम चंद, पूर्व जिला प्रमुख शशिबाला, भाजपा नेता सुनील मुसेपुर, दीपक मंगला, जगफूल, प्रशासन से एसपी अभिषेक जोरवाल, एडीसी राहुल हुड्डा, एसडीएम रेवाड़ी रविन्द्र यादव, एसडीएम बावल संजीव कुमार, एसडीएम कोसली होशियार सिंह, सीटीएम रोहित कुमार सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...