दशहरा आज:रावण दहन... प्रशासन की हां भी नहीं, ना भी नहीं; यानी चाहो तो जला लो!

रेवाड़ी2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बेरली गांव में बनाया 90 फीट का रावण। - Dainik Bhaskar
बेरली गांव में बनाया 90 फीट का रावण।
  • पहले कोरोना और इस बार असमंजस की मार में रावण दहन नहीं देख पाएगा शहर
  • प्रशासन ने किसी को अनुमति नहीं दी, मगर रावण दहन के लिए ड्यूटी मजिस्ट्रेट लगाए
  • बेरली में 90 फीट का रावण तैयार, ग्रामीण सालों से करते आ रहे दहन

आज दशहरा पर्व मनाया जाएगा। कोविड-19 की दस्तक के साथ इस त्योहार की परंपराओं पर पड़ना शुरू हुआ असर अब तक बरकरार है। पिछली बार कोरोना के चलते जिले में रामलीलाओं का ही मंचन नहीं हो पाया था। इससे रावण दहन भी नहीं हुआ। अब संक्रमण थमा हुआ है, मगर प्रशासनिक व्यवस्था की मार में इस बार भी शहर रामलीला मैदान में रावण दहन नहीं देख पाएगा।

दरअसल, जिला प्रशासन ने रावण दहन की अनुमति ही जारी नहीं की है। हालांकि दहन के आयोजनों को लेकर ड्यूटी मजिस्ट्रेट लगा दिए गए हैं। अनुमति नहीं दी, मगर स्पष्ट तौर पर रोक के भी आदेश जारी नहीं हुए हैं। इस असमंजस के चलते कमेटियों ने इस बार रावण तैयार ही नहीं कराए।

बता दें कि शहर के हुडा ग्राउंड में करीब 50 फीट ऊंचाई के दो रावण के पुतलों का दहन होता रहा है। वहीं बेरली में ग्रामीणों ने अपने स्तर पर 90 फीट का रावण तैयार किया है। इधर, रेवाड़ी एसडीएम रविंद्र यादव का कहना है कि रावण दहन के लिए उनकी ओर से अनुमति नहीं दी गई है।

रामलीला को अनुमति, मगर दहन को नहीं

पिछली बार राम लीला का भी मंचन नहीं हो पाया था। इस बार राम लीला के लिए परमिशन दे दी गई, मगर दहन को लेकर स्थिति अस्पष्ट ही रही। श्री घंटेश्वर महादेव मंदिर आदर्श रामलीला प्रतिनिधियों का कहना है कि उन्होंने रामलीला मंचन और रावण दहन के अनुमति के लिए प्रशासन के पास आवेदन किया था। रामलीलालाओं के मंचन को तो अनुमति दे गई, मगर दहन के कार्यक्रम को लेकर कोई जवाब नहीं दिया गया।

ऑर्डर... दहन कार्यक्रम होंगे, ड्यूटी मजिस्ट्रेट लगाए गए

दशहरा पर्व के अवसर पर 15 अक्टूबर को रेवाड़ी, बावल, कोसली व धारूहेड़ा में निकाली जाने वाली झांकियों व रावण दहन को लेकर जिलाधीश यशेन्द्र सिंह ने शांति, कानून एवं व्यवस्था बनाए रखने के लिए दंड प्रक्रिया संहित 1973 की धारा में निहित शक्तियों को प्रयोग करते हुए डयूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त किए हैं।

आदेशों में लिखा है कि पुलिस अधीक्षक द्वारा सूचित किया गया है कि जिलो में विभिन्न स्थानों पर रावण दहन कार्यक्रम आयोजित होंगे। तहसीलदार रेवाड़ी प्रदीप देशवाल को रेवाड़ी के लिए, तहसीलदार कोसली जितेन्द्र कुमार को कोसली के लिए, नायब तहसीलदार बावल रवि कुमार को बावल के लिए, बीडीपीओ धारूहेड़ा करतार सिंह को उप तहसील धारूहेड़ा क्षेत्र, नायब तहसीलदार डहीना अजय कुमार को खोल खंड, तथा नायब तहसीलदार रेवाड़ी भूप सिंह को हुडा मैदान जिला सचिवालय के पीछे के लिए डयूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त किया है। संबंधित एसडीएम अपने-अपने क्षेत्र के इंचार्ज तथा अतिरिक्त उपायुक्त रेवाड़ी ओवरऑल इंचार्ज होंगी।

खबरें और भी हैं...